तमिलनाडु ने 31 अक्टूबर तक बढ़ाया लॉकडाउन, विद्यार्थियों के स्वैच्छिक रूप से जाने पर रोक

102
loading...

चेन्नई: तमिलनाडु सरकार ने मंगलवार को पाबंदियों में और ढील के साथ वर्तमान लॉकडाउन 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया तथा दसवीं से लेकर बारहवीं कक्षाओं तक के विद्यार्थियों को शिक्षिकों का मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए एक अक्टूबर से स्वैच्छिक रूप से विद्यालय जाने की अनुमति संबंधी पिछले आदेश पर रोक लगा दी.

अभिभावकों के विरोध के बाद सरकार ने विद्यार्थियों को विद्यालय जाने की अनुमति संबंधी योजना टाल दी है। अभिभावकों ने अपने बच्चों को विद्यालय भेजने से इनकार कर दिया. मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने कहा, ‘‘ जिलाधिकारियों और चिकित्सा दल के साथ बैठक में मिले इनपुट, महामारी की वर्तमान स्थिति तथा विद्यार्थियों की सुरक्षा पर विचार करते हुए विद्यार्थियों के स्वैच्छिक शिक्षक मार्गदर्शन संबंधी सरकारी आदेश को स्थगित किया जा रहा है.”

जिलाधिकारियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ डिजिटल बैठक में महामारी की स्थिति की समीक्षा की और लॉकडाउन 31 अक्टूबर तक बढ़ाने की घोषणा की. एक बयान में उन्हेांने कहा कि निषिद्ध क्षेत्रों में पाबंदियां जारी रहेंगी. बयान के अनुसार शैक्षणिक संस्थान, मनोरंजन केंद्र, संग्रहालय बंद रहेंगे और उपनगरीय ट्रेन सेवाएं निलंबित रहेंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 2 =