राजस्थान के DGP भूपेंद्र यादव ने दी VRS की अर्जी, RPSC के चेयरमैन बनने की चर्चा

28
loading...

जयपुर 24 सितंबर। बिहार के डीजीपी गुप्तेशवर पांडे द्वारा नौकरी से स्वैच्छिक सेवानिवृति लिए जाने के बाद अब राजस्थान के डीजीपी भूपेंद्र यादव की भी सरकार से स्वैच्छिक सेवानिवृति के लिये अर्जी की खबरें तेज हो गई हैं. सवाल ये है कि राजस्थान में तो अभी कोई चुनाव नहीं है, फिर क्यों डीजीपी ने ऐसा निर्णय किया है. चर्चा है कि डीजीपी यादव किसी आयोग के अंदर सवैधानिक नियुक्ति लेना चाहते हैं, वहीं सूत्रों की मानें तो राजस्थान सरकार जल्द ही राजस्थान पब्लिक सर्विस कमीशन में चेयरमैन की नियुक्ति करना चाहती है. 14 अक्टूबर को RPSC चेयरमैन का पद खाली हो रहा है.

हालांकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने डीजीपी भूपेंद्र यादव की स्वैच्छिक सेवानिवृति की अर्जी पर अब तक कोई निर्णय नहीं किया है. डीजीपी यादव के वीआरएस लेने की अर्जी की बात इसलिए भी चर्चा में है, क्यों कि भूपेंद्र यादव मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सबसे पसंदीदा अधिकारियों में से एक हैं, उन्हें आरपीएससी में चेयरमैन बनाया जा सकता है. पहले भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने डीजीपी यादव का कार्यकाल 6 महीने बढ़ाकर दो साल कर दिया था.

इसे भी पढ़िए :  अजर अमर है हिन्दी और देश में बोली जाने वाली भाषाएं

वीआरएस के बाद भूपेंद्र यादव को मिल सकता है संवैधानिक पद
यह चर्चा तेज हो गई है कि मुख्यमंत्री के नजदीकी अधिकारियों में शुमार भूपेंद्र यादव ने आखिर वीआरएस की अर्जी अचानक क्यों लगाई है. दरअसल डीजीपी यादव 2021 की शुरुआत में ही रिटायर हो रहे हैं, अगर भूपेंद्र यादव आरपीएससी के चेयरमैन बनते हैं, तो उनको करीब एक साल का और वक्त मिल सकता है. वहीं आरपीएससी के नियमों के मुताबिक 62 साल की उम्र तक वहां चेयरमैन हो सकता है. अभी भूपेंद्र यादव करीब 61 साल के हैं, ऐसे में वह 1 साल से ज्यादा वक्त तक RPSC के अध्यक्ष रह सकते हैं.

इसे भी पढ़िए :  नेताजी ने किया भैंस पर बैठकर चुनाव प्रचार, पशु से क्रूरता का केस दर्ज

वहीं राजस्थान में मुख्य सूचना आयुक्त का पद भी खाली है, इस पद के लिए 7 अक्टूबर तक आवेदन मांगे गए हैं, डीजीपी भूपेंद्र यादव को यह पद भी दिया जा सकता है. ऐसे में कह सकते है जहां बिहार के डीजीपी के वीआरएस लेने के बाद उनकी सियासत में एंट्री की चर्चा है, तो वहीं अब राजस्थान  के डीजीपी की सवैधानिक पद पर जाने की चर्चा हो रही है.

इसे भी पढ़िए :  पीएम मोदी 27 अक्टूबर को देंगे UP के 3 लाख छोटे दुकानदारों, ठेले-खोमचे वालों को ये बड़ा तोहफा

नए डीजीपी की रेंस में एमएल लाठर सबसे आगे
राजस्थान में अब नए डीजीपी को लेकर भी हलचल तेज हो गई है. सूत्रों के मुताबिक छह डीजी स्तर के आईपीएस अधिकारियों के नाम केंद्र को भेजे गए हैं. छह में से तीन नामों पर सहमति मिलेगी. वहीं खबर है कि आईपीएस राजीव दासोत, बीएल सोनी, उत्कल रंजन साहू, नीना सिंह और भूपेंद का नाम केंद्र को भेजा गया है. सूत्रों के मुताबिक एमएल लाठर और बीएल सोनी को रेस में सबसे आगे बताया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen + 17 =