हरिओम मर्डर केस में पुलिस चौकी इंचार्ज निलंबित, छह पुलिस कर्मी लाइन हाजिर

97
loading...

मुरादाबाद 24 सितंबर।  महेशपुर भीला कांड में करनपुर चौकी इंचार्ज को निलंबित कर दिया गया है। वहीं छह पुलिस कर्मी लाइन हाजिर भी कर दिए गए हैं। मूंढापांडे थाना क्षेत्र में छेड़छाड़ के बाद पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में लापरवाही बरतने के आरोपित करनपुर चौकी इंचार्ज समेत सात पुलिस कर्मियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की गई है। चौकी प्रभारी वीरेंद्र कुमार को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए छह पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर किया है। इसमें दो उपनिरीक्षक भी शामिल हैं।

इसे भी पढ़िए :  गौहर खान ने ज़ैद दरबार से शादी की खबरों को लेकर कहा ये.....जानिए 

मूंढापांडे थाना क्षेत्र के महेशपुर भीला गांव में 22 सितंबर को छेड़छाड़ के विरोध में पीड़िता के पिता हरिओम की हत्या कर दी गई। मृतक के स्वजनों ने पुलिस पर तीन दिनों से लगातार दो पक्षों के बीच चल रहे विवाद को नजरंदाज करने व गंभीर हालात भांपने में लापरवाही बरतने का ठीकरा पुलिस कर्मियों के सिर फोड़ा। आक्रोशित भीड़ ने थाने पर प्रदर्शन भी किया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने प्रकरण में पुलिस कर्मियों की भूमिका की जांच करने का आदेश दिया। सीओ हाईवे रामसागर की जांच रिपोर्ट के आधार पर आज तड़के एसएसपी ने करनपुर चौकी प्रभारी वीरेन्द्र कुमार को निलंबित कर दिया। इसके अलावा एसआई अश्वनी कुमार व परमानन्द के साथ ही सिपाही सुखनन्दन, धीरेन्द्र, मनोज कुमार व अतुल कुमार को लाइन हाजिर होने का हुक्म दे दिया। एसएसपी की कार्रवाई से महकमे में खलबली मची है।

इसे भी पढ़िए :  मुरादाबाद में संत रामदास की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, खनन माफियाओं से बताया था जान का खतरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 1 =