दिल्ली को दहलाने की पाक की साज़िश का पर्दाफाश, NIA ने 9 लोगों को किया गिरफ्तार

26
loading...

नई दिल्ली: दिल्ली को दहलाने की पाक की नापाक साजिश का एक बार फिर पर्दाफाश हुआ है. एनआईए ने इस बारे में केरल और पश्चिम बंगाल में छापेमारी कर 9 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से पिस्तौल, बुलेटप्रूफ जैकेट, बारूद, संवदेनशील वीडियो आदि बरामद हुए हैं. ये सभी अलकायदा ग्रुप से संबधित बताए गए हैं और ये लोग पाकिस्तान के पेशावर में बैठे अलकायदा कमांडर हमजा भाई के संपर्क में थे.

एनआईए ने जिन नौ लोगों को गिरफ्तार किया है, वो सभी केरल और पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के रहने वाले हैं और इनका संबंध पाकिस्तान के अलकायदा संगठन से बताया गया है. केन्द्रीय खुफिया एजेंसी आईबी को सूचना मिली थी कि अलकायदा का एक ग्रुप भारत में आतंकी साजिश को अंजाम देने की कोशिश कर रहा है. आईबी ने इस सूचना को एनआईए के साथ साझा किया. एनआईए ने जब जाल बिछाया तो पता चला कि इनके निशाने पर राजधानी दिल्ली भी है और इन लोगों को आतंक फैलाने के लिए भीड़ भरी जगहों पर अंधाधुंध फायरिंग और बम धमाके करने थे.

इसे भी पढ़िए :  प्रधानमंत्री को बधाई, देश का हर नागरिक को जम्मू-कश्मीर में अपना घर बनाने का अब मिलेगा मौका

इन लोगों से पूछताछ के दौरान एनआईए जानना चाहता है कि दिल्ली एनसीआर के कौन से इलाके इनके निशाने पर थे. साथ ही इनके हैंडलर ने इनसे यह भी कहा था कि हथियार बारूद लेने के लिए इनकी एक टीम श्रीनगर आ जाए और फिर डार्कनेट के जरिए उससे संपर्क करे तो उसके लोग उन्हे वहां हथियार गोलाा बारूद मुहैया करा देंगे.

इसे भी पढ़िए :  लोहा व्‍यापारी को अपहरण करने व एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगने वाले आठ गिरफ्तार, घटना का किया राजफाश

इनके पास से बरामद सामान में जो बॉडी आर्मर मिला है, इसे बनाने के लिए भी इन्हे ऑनलाइन ट्रेनिग मिली थी और पिस्तौल बनाने की भी. इसके अलावा अपने आका के कहने पर इन लोगों ने स्थानीय स्तर पर मिलने वाला बारूद भी एकत्र करना शुरू कर दिया था, जिससे वो भी वक्त जरूरत पर काम आए. पूछताछ के दौरान पता चला है कि इस टीम का लीडर केरल का रहने वाला मुर्शिद है. ये लोग आतंक और दहशत कहां-कहां फैलानी है इसके लिए पाकिस्तान में बैठे आका से निर्देश ले रहे थे.

इसे भी पढ़िए :  Bihar Election 2020: सोनू सूद की बिहार की जनता से अपील, कहा- उंगली से नहीं, दिमाग से करें मतदान

अब तक की जांच और पूछताछ के दौरान पता चला है कि ये लोग पेशावर में बैठे अलकायदा कमांडर हमजा भाई के संपर्क में थे और इन लोगों ने बम बनाने की भी ऑनलाइन ट्रेनिंग ली थी. एनआईए को अब तक की जांच के दौरान इनके पास से अनेक संवेदनशील वीडियो भी बरामद हुए हैं. फिलहाल एनआईए इन सभी को रिमांड पर लेकर इनसे राज उगलवाने की कोशिश कर रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − 16 =