शिव भक्‍तों के लिए खुशखबरी:  नवंबर में हवाई सेवाओं से जुड़ जाएगा देवघर स्थित द्वादश ज्योतिर्लिंग

20
loading...

नई दिल्ली 15 सितंबर। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी द्वारा देवघर हवाई अड्डा निर्माण स्थल के निरीक्षण के बाद नबम्बर के पहले सप्ताह में देवघर हवाई अड्डा से कमर्शियल उड़ान शुरू किए जाने की घोषणा की गई. देवघर एक प्रसिद्ध तीर्थनगरी के साथ कई मनोरम पर्यटन स्थल के लिए भी जाना जाता है. ऐसे में देवघर स्थित पवित्र द्वादश ज्योतिर्लिंग के दर्शन के लिए देश- विदेश से लोग आसानी से हवाई मार्ग से यहां पहुंच सकेंगे. साथ ही यहां के मनोरम पर्यटन स्थल का भ्रमण करने भी पर्यटकों का यहां पहुंचना आसान हो जाएगा.स्थानीय लोगों के अनुसार हवाई यात्रा की सुविधा नहीं होने से बहुत लोग चाह कर भी इस धर्मनगरी की यात्रा नहीं कर पाते थे. हवाई मार्ग से जुड़ जाने के बाद अब विदेशी सैलानियों का भी यहाँ आना आसान हो जाएगा. दुनिया के बड़े शहरों से हवाई मार्ग से जुड़ जाने के बाद यहां के प्रतिभाशाली छात्रों को भी आवागमन की परेशानी से छुटकारा मिल जाएगा.स्थानीय चैंबर के प्रतिनिधि भी देवघर से कमर्शियल उड़ान शुरू होने की घोषणा से काफी खुश हैं. उनके अनुसार अब प्रतिस्पर्धा के साथ नए उद्योग-धंधे और अन्य व्यावसायिक कारोबार को भी फलने-फूलने का पूरा मौका मिलेगा. वहीं चिकितसा के क्षेत्र को भी बढ़ावा मिलने की उम्मीद जताई जा रही है.एयरपोर्ट का स्वरुप 654 एकड़ भूमि में फैले इस एयरपोर्ट के निर्माण पर तकरीबन 401 करोड़ की लागत आएगी. इसका टर्मिनल भवन 4000 स्क्वेयर मीटर क्षेत्र में बनाया जा रहा है. 2500 मीटर लंबे रनवे के साथ ये एयरपोर्ट एयरबस 320 आदि विमानों के ऑपरेशन के लिए बिल्कुल उपयुक्त रहेगा.टर्मिनल बिल्डिंग में छह चेक-इन काउंटर होंगे, दो आगमन प्वाइंट और भीड़भाड़ की स्थिति में यहाँ 200 यात्रियों को संभालने की क्षमता होगी. एयरपोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इंडिया, DRDO और झारखंड सरकार के सहयोग से देवघर एयरपोर्ट का निर्माण कराया जा रहा है.

इसे भी पढ़िए :  कोरोना संक्रमितों के इलाज में निजी अस्पतालों की बड़ी लापरवाही, 48 मरीजों की मौत पर नोटिस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 2 =