Parliament Monsoon Session: राज्यसभा में कोरोना वायरस पर चर्चा, कांग्रेस बोली- लॉकडाउन के फायदे बताए सरकार

9
loading...

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बीच संसद के मॉनसून सत्र का आज तीसरा दिन है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एलएसी पर चीन के साथ जारी टकराव को लेकर राज्यसभा में बयान देंगे। इससे पहले मंगलवार को उन्होंने लोकसभा में बयान दिया था। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने संसद से भी चीन को स्पष्ट शब्दों में बता दिया कि सीमा पर यथास्थिति को एकतरफा बदलने का कोई प्रयास भारत को किसी सूरत में मंजूर नहीं है। लोकसभा में बयान देते हुए राजनाथ ने कहा कि भारत शांति से हर मुद्दे के हल का पक्षधर है लेकिन कोई आक्रामक रुख दिखाएगा तो माकूल जवाब दिया जाएगा।

इसे भी पढ़िए :  अब 300 से कम कर्मचारियों वाली कंपनी सरकार की मंजूरी के बिना ही कर सकेंगी छंटनी

कोरोना वायरस पर चर्चा
राज्यसभा में कोरोना वायरस पर स्वास्थ्य मंत्री के बयान पर चर्चा हो रही है। कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने कहा कि कोरोना काल में सरकार ने लॉकडाउन लगाया तो इसके फायदे क्या-क्या हुए, इसे भी सरकार को बताना चाहिए।

6 महीनों में 28 बार घुसपैठ
गृह मंत्रालय की तरफ से राज्यसभा को बताया गया कि पिछले 6 महीनों के दौरान भारत चीन सीमा पर किसी घुसपैठ की रिपोर्ट नहीं है। साथ ही यह जानकारी भी दी कि इस साल अब तक पाकिस्तान से जम्मू-कश्मीर में आतंकी 28 बार घुसपैठ कर चुके हैं।

इसे भी पढ़िए :  गंगाजल के नियमित इस्तेमाल से 90% लोग Covid-19 से सुरक्षित

मनोज झा का बाबा रामदेव पर निशाना
आरजेडी के सांसद मनोज झा ने राज्यसभा में कहा कि कोरोना काल में जून के महीने में एक क्षण ऐसा आया, जब एक महापुरुष (योगगुरु रामदेव) ने कहा कि उन्होंने कोरोना की दवाई बना ली है। उनका कोई नुकसान नहीं हुआ। उनकी दवाइयां बिक गईं। कोरोना काल में किस तरह से आयुर्वेद का गलत इस्तेमाल किया गया है, इसका हमें ध्यान रखना चाहिए।

इसे भी पढ़िए :  10 बार बिना ऑक्सीजन सिलेंडर के माउंट एवरेस्ट के शिखर पर चढ़ने वाले पर्वतारोही का निधन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 − 4 =