यूपी में होगा कोरोना संक्रमण से निपटने हेतु सेरोलॉजिकल सर्वे

188
loading...

लखनऊ 31 जुलाई। उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए यूपी सरकार ने एक बड़ा फ़ैसला किया है. इसके तहत कोरोना संक्रमण को आगे बढ़ने से रोकने के लिए ऐंटी बॉडी का पता लगाने की क़वायद की जाएगी. सरकार की तैयारी है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण स्तर का पता लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग सेरोलॉजिकल सर्वे कराएगा.जानकारी के मुताबिक 5 अगस्त से इसकी शुरुआत की संभावना है. इस सर्वे मे लोगों के रैंडम खून के नमूने लेकर एंटीबॉडी की जांच होगी और पता किया जायेगा कि कैसे नमूनों मे प्रतिरोधक क्षमता कैसी है? इसके लिए यूपी का स्वास्थ्य विभाग एक लाख किट खरीद रहा है. जिससे ये परीक्षण जगह-जगह किया जाएगा. शुरूआती सर्वे में आगरा, मेरठ सहित ऐसे जिलों का शामिल किया जा रहा है, जहां संक्रमण अब कम हो रहा है. वहां पर प्रतिरोधक क्षमता के बारे मे ज्यादा सटीक आंकड़े आने की गुंजाइश है.

इसे भी पढ़िए :  मंगलुरु हवाई अड्डे पर 1.09 करोड़ का सोना जब्त, दो गिरफ्तार

दरअसल सरकार का मानना है कि संक्रमण को आगे बढ़ने से रोकने या जोखिम के स्तर के बारे में वास्तविक डेटा का पता लगाने का एकमात्र तरीका लोगों में एंटी बॉडी की उपस्थिति का परीक्षण है. सेरो सर्वे एक विश्व स्तर पर इस्तेमाल किया जाने वाला विश्वसनीय तरीक़ा है, जो एक निश्चित संक्रमण के खिलाफ एंटीबॉडी के लेवल को मापता है. इस तकनीक का उपयोग इसलिए भी किया जाता है कि बड़े पैमाने पर टीकाकरण की जांच की जा सके और लोगों की प्रतिरोधक क्षमता का स्तर देखा जा सके. बता दें पूरे देश में दिल्ली, महाराष्ट्र सहित कई राज्यों में सीरो सर्वे पहले से हो रहे हैं. अब इसके लिये उत्तर प्रदेश शुरूआत करने जा रहा है.

इसे भी पढ़िए :  पुडुचेरी : उपराज्यपाल को हटाने की मांग को लेकर पिछले तीन दिन से मुख्यमंत्री धरने पर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 2 =