रक्षाबंधन और बकरीद पर खुले मिठाई और राखी की दुकान

175
loading...

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी लाने और अनलाॅक के दौरान इनकी संख्या में बढ़ोत्तरी ना हो इसलिए शनिवार और रविवार को प्रदेश में पूर्ण लाॅकडाउन का पालन सभी कर रहे हैं। हां व्यापारियों द्वारा इन दोनों दिन भी बाजार खोलने की मांग कई जगह से की जा रही है। फैसला लेना जिलाधिकारियों का काम है। जो भी वो कहेंगे जनता तो उसी का पालन करेगी। लेकिन विशेष परिस्थितियों में रक्षाबंधन और बकरीद के त्योहार को ध्यान में रखते हुए एक व दो अगस्त को होने वाले लाॅकडाउन में वैसे तो सारे बाजार खोले जाने चाहिए जिससे हर व्यक्ति अपनी भावना और प्रथा के तहत खुशी व उमंग के साथ त्योहार मना सके लेकिन अगर किसी वजह से ऐसा संभव नहीं हो तो आवागमन की पूरी छूट और हलवाई व राखी विक्रेताओं को अपने प्रतिष्ठान खोलने की अनुमति जनहित में दी जानी चाहिए। क्योंकि यह दोनों ही त्योहार ऐसे हैं जो नागरिकों की भावनाओं से जुड़े हैं। बताया जा रहा है कि प्रदेश के कुछ जिलों में इन दोनों त्योहारों पर मिठाई व राखी आदि की दुकानें खोलने की अनुमति दी जा रही है। अगर ऐसा है तो और भी जरूरी है और अगर नहीं है तो माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को विशेष रूप से यह छूट प्रदेश भर में देनी चाहिए। हां सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने की अनिवार्यता को सख्ती से लागू करने के निर्देश भी दिए जाएं। आरकेबी फाउंडेशन के राष्ट्रीय महासचिव अंकित विश्नोई, अन्नपूर्णा मंदिर के संस्थापक श्री ब्रजभूषण गुप्ता, व्यापारी नेता सचिन कंसल, कौमी एकता संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप गुप्ता ऐल्फा रिश्तों का संसार के संचालक श्री महेश शर्मा, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व सचिव चैधरी यशपाल सिंह, हिंदूवादी नेता जतीन कंसल, अखिल कौशिक आदि द्वारा इस संदर्भ में की जा रही मांग पूरी तौर पर उचित है। जिस पर सरकार को समय रहते निर्णय लेना चाहिए जिससे समय से त्योहार संबंधी कार्य समय से पूर्ण हो सके। और वैसे भी सरकार द्वारा बहनों के भाईयों के घर तक जाने के लिए बड़ी तादात में रोडवेज बसें चलाई जा रही हैं। उनका भी फायदा तभी है जब हलवाई व राखी की दुकानें खुलें और बहनें मिठाई व रक्षासूत्र लेकर भाईयों के यहां जा सके।

इसे भी पढ़िए :  पिता-पुत्र जिस बेटी की हत्या के आरोप में सजा काट रहे है वह जिन्दा मिली

रवि कुमार विश्नोई
सम्पादक – दैनिक केसर खुशबू टाईम्स
अध्यक्ष – ऑल इंडिया न्यूज पेपर्स एसोसिएशन
आईना, सोशल मीडिया एसोसिएशन (एसएमए)
MD – www.tazzakhabar.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × five =