राजधानीवासियों को अब तेहरी मार, मॉनसून के साथ अब डेंगू‚ चिकनगुनिया ने भी दी दस्तक

10
loading...

नई दिल्ली। कोविड–१९ महामारी के बीच एक और लड़ाई राष्ट्रीय राजधानी के सिर पर मंडरा रही है। राजधानी में वेक्टर जनित बीमारियों के मामले बढ़ रहे हैं। तीनों नगर निगमों द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार‚ शहर में अब तक डेंगू‚ मलेरिया और चिकनगुनिया के ७३ मामले दर्ज किए गए हैं। इन ७३ मामलों में से ३८ मलेरिया के हैं‚ २२ डेंगू और शेष १३ चिकनगुनिया के हैं। निगम के ड़ीएचओ का कहना है कि स्थिति नियंत्रण में है क्योंकि पिछले वर्ष की तुलना में यह संख्या ३० प्रतिशत कम है। वर्ष २०१९ में राजधानी में इस समय तक डेंगू‚ मलेरिया और चिकनगुनिया के १०७ मामले दर्ज हो चुके थे। उत्तरी दिल्ली नगर निगम की अतिरिक्त नगर आयुक्त ईरा सिंघल ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है और आने वाले दिनों में इससे निपटने के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं। सिंघल ने यह भी कहा कि एमसीडी कर्मचारी इस प्रकोप को रोकने के लिए तमाम उपाय कर रहे हैं। उन्होंने कहा‚ ‘घरों में मच्छरों के प्रजनन की जांच‚ फॉगिंग‚ एंटी–लार्वा स्प्रे आदि कर रहे हैं। इसके अलावा हम निवासियों को जागरूक करने के लिए जागरूकता कार्यक्रम भी कर रहे हैं।’ निरीक्षण अभियानः एमसीडी निरीक्षण अभियान चला रही है। उन व्यक्तियों या प्रतिष्ठानों को दंडित किया जा रहा है‚ जहां मच्छरों के प्रजनन स्थल पाए जाते हैं। आंकड़ों के अनुसार‚ निगमों ने अब तक ११‚९४२ कानूनी नोटिस दिए हैं और उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ १०६ अभियोग चलाए हैं। निगम ने व्यापारियों के संघों और आरडब्ल्यूए के साथ मिलकर खुली नालियों को ढंका था। हालांकि अधिकांश क्षेत्र की आरड़ब्ल्यूए उनके इस दावे से इत्तेफाक नहीं रखती है। स्थिति हो सकती है खराबः दिल्ली मेडिकल काउंसिल के सदस्य डा.पंकज सोलंकी ने कहा कि यदि कोविड–१९ और वेक्टर–जनित बीमारियां मिल गइÈ तो स्थिति बहुत खराब हो सकती है। उन्होंने कहा कि पहले से ही कोविड–१९ संक्रमण से पीडि़त रोगियों में ब्लड प्लेटलेट्स में आई गिरावट घातक साबित होगी। आईएचएफ के अध्यक्ष ड़ा. आरएन कालरा के अनुसार ‘जमीनी स्तर सफाई कार्य नाकाफी है। नलियों में गाद जमा होने के कारण कुछ ही मिनट की बारिश में कॉलोनियों में पानी भर रहा है। यदि इसे ठीक नहीं किया गया तो डेंगू और मलेरिया से लड़ने के सारे प्रयासों पर पानी फिर जाएगा।

इसे भी पढ़िए :  दूध निकालने में ट्रैक्टर के इस इनोवेटिव तरीके की आनंद महिंद्रा ने की तारीफ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + two =