मुंबई, दिल्ली और कोलकाता जाने वाली सभी ट्रेनों में सीटें फुल

19
loading...

प्रयागराज 29 जून। कोरोना महामारी के मद्देनजर देश में लगे लॉकडाउन के दौरान वापस आए लोग लौट रहे हैं। मुंबई, नई दिल्ली और कोलकाता जाने वाली ट्रेनों में अचानक टिकटों की मांग बढ़ी है। एक सप्ताह पहले तक ट्रेनें खाली चल रही थीं। इस समय स्टेशनों पर भले ही पहले जैसी भीड़ न दिखे लेकिन प्रयागराज होकर बड़े शहरों को जाने वाली स्पेशल ट्रेनें अब भरी जा रही हैं। तीनों शहरों को चलने वाली स्पेशल ट्रेन के स्लीपर में तीन जुलाई तक वेटिंग टिकट मिल रहा है। इस रूट में सबसे अधिक कामायनी एक्सप्रेस में स्लीपर टिकट की मांग है।

इसे भी पढ़िए :  एटीएम लूटने के लिए बदमाशों ने नाले में ही खोद डाली 8 फीट लंबी सुरंग

मुंबई जाने वाली ट्रेनों में कामायनी एक्सप्रेस, पाटलीपुत्र लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस, पटना-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस और दरभंगा-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस ट्रेनों के लगभग सभी श्रेणी के कोच के टिकट की डिमांड है। स्लीपर कोच की वेटिंग 30 तक पहुंची है।
इसी प्रकार नई दिल्ली जाने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस में 30 जून और एक जुलाई को स्लीपर कोच में वेटिंग रविवार दोपहर तक क्रम: 50 और 46 थी। वाराणसी से नई दिल्ली जाने वाली शिवगंगा एक्सप्रेस में 30 जून को स्लीपर के टिकट की मांग 25 तक पहुंची है। हावड़ा-नई दिल्ली स्पेशल, पुरी-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन के लगभग सभी श्रेणी में वेटिंग टिकट मिल रहे है।

इसे भी पढ़िए :  शिक्षकों और कर्मचारियों के वेतन में कटौती क्यों

कोलकाता जाने वाली ट्रेनों में भी यात्री बढ़े हैं। नई दिल्ली-हावड़ा (पूर्वा एक्सप्रेस) स्पेशल में सोमवार को स्लीपर कोच के टिकट की मांग 40 से अधिक हो गई है। रेलवे के पोर्टल के अनुसार जोधपुर-हावड़ा स्पेशल ट्रेन में एक जुलाई को स्लीपर की वेटिंग 50 तक पहुंच गई है। इन ट्रेनों के अन्य श्रेणी के टिकटों की मांग तीन जुलाई तक वेटिंग में है। तीनों शहरों से आने वाली ट्रेनों में भी इसी तरह की भीड़ है।

इसे भी पढ़िए :  13 साल की गर्भवती प्रेमिका के लिए जान दे सकता है 10 साल का पिता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × three =