मेघालय सरकार ने 11 जिलों में से 10 को ‘ग्रीन जोन’ किया घोषित

15
loading...

नई दिल्ली 30 अप्रैल। मेघालय सरकार ने आज राज्य के 11 जिलों में से 10 को ‘ग्रीन जोन’ घोषित किया और वहां अंतर जिला आवाजाही की इजाजत दे दी। शीर्ष अधिकारी ने बताया कि इन जिलों में कोविड-19 का कोई भी मामला सामने नहीं आने के कारण यह फैसला लिया गया है। कोरोना वायरस के सभी 12 मामले और एक मौत राज्य की राजधानी के हैं जो पूर्वी खासी पर्वत जिले में आती है। राजनीतिक विभाग के सचिव सिरिल वी डी डेंग्दोह ने जिलाधिकारियों को लिखे पत्र में कहा, ” पूर्वी खासी पर्वत जिले को छोड़कर राज्य के सभी 10 जिले ग्रीन जोन में हैं, क्योंकि उनमें कोविड-19 का कोई भी मामला रिपोर्ट नहीं हुआ है। ग्रीन जोन के सभी उपायुक्त अंतर जिला आवाजाही की इजाजत दे सकते हैं। ” इस बीच, राज्य सरकार ने देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे राज्य के 10,200 से अधिक लोगों की पहचान की है, जिसमें अन्य पूर्वोत्तर राज्यों में लगभग 2,500 शामिल हैं।

इसे भी पढ़िए :  बीजेपी के पूर्व विधायक की पिटाई का वीडियो वायरल, लड़की से छेड़खानी का आरोप लगा

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलो में लगातार तेजी देखने को मिल रही है। देशभर में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 33 हजार पार कर गई है। पिछले 12 घंटे में कोरोना वायरस के 1263 नए मामले सामने आए हैं, वहीं 66 लोगों की मौत हो गई है। आज जारी स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देशभर में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 33050 हो गए हैं और इस खतरनाक कोविड-19 से अब तक 1074 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना के कुल 33050 केसों में 23651 एक्टिव केस हैं, वहीं 8325 लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है। कोरोना वायरस से सर्वाधिक 432 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई। यहां अब इस महामारी से पीड़ितों की संख्या 11940 हो गई है।

इसे भी पढ़िए :  अब बच नहीं पाएंगे बड़े हुक्मरान भी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × five =