‘मसूरी’ वीकेंड पर घूमने के लिए बेहद ही खूबसूरत जगह

15
loading...

दिल्ली से बेहद पास उत्तराखंड का ‘मसूरी’ वीकेंड पर घूमने के लिए बेहत ही खूबसूरत जगह है। खूबसूरत पहाड़, हरे-भरी वादियां, कल-कल करता नदियों का पानी मसूरी को पहाड़ों की रानी बनाता है। गढ़वाल हिमालय पर्वतमाला की तलहटी में स्थित मसूरी बेहत ही रोमांटिक प्लेस भी माना जाता है। इस जगह की ऊंचाई समुद्र तल से मसूरी 7000 फीट है, इसी कारण ये जगह बहुत ही ठंडी है। सर्दी के मौसम में यहां खूब बर्फबारी भी होती है।
स्नोफॉल को देखने के शौकीनों सैलानियों की सर्दी में यहां भरमार होती है। यहां पर घूमने के लिए बहुत कुछ है। अगर आप अपनी फैमली के साथ यहां घूमने के लिए आते हैं तो यहां पर आप बहुत कुछ देख सकते हैं। इस आर्टिकल में आज हम आपकों बताएंगे मसूरी की घूमने लायक जगहों के बारे में।

लैंडोर
भारत में जब अंग्रेजी हुकूमत हुआ करती थी तो अंग्रेजो का पंसदीद प्लेस मसूरी थी। वह अपना काफी वक्त उत्तराखंड के इस हिल स्टेशन पर गुजारा करते थे। इसी कारण यहां का कल्चर अभी भी अंग्रेजो के जमाने का हैं। मसूरी से 7 किलोमीटर दूर Landour छावनी एरिया है। यहां पर अगर आप आते है तो आपकों काफी शांति मिलेगी।  Landour के बाजार में आप शॉपिंग भी कर सकते हैं। यहां पर कुछ प्वाइंट है जहां से लैंडोर की खूबसूरती को निहारा जा सकता है।

इसे भी पढ़िए :  निजामुदीन मरकज से 30 बसों से 900 लोगों को निकाला गया, 153 एलएनजेपी में भर्ती

मसूरी लेक
देहरादून डिवेलपमेंट अथॉरिटी के अधीन मसूरी लेक देखने के लिए भा पर्यटकों का जमावड़ा लगता है। मसूरी घूमने आये लोगों मसूरी लेक भी घूमने जा सकते हैं। मसूरी लेक हाल में बना टूरिस्ट अट्रैक्शन है। जब आप देहरादून से मसूरी की तरफ आते हैं तो मसूरी पहुंचने से 6 किलोमीटर पहले ही मसूरी लेक है। आप इसे भी आते वक्त देख सकते हैं। लेक में एंजोय करने के लिए बोटिंग की भी सुविधा हैं। यहां आप आराम से 1 से 2 घंटे बीता सकते हैं।

केंपटी फॉल्स
मसूरी जाओं और केंपटी फॉल्स न देखों ऐसा बिलकुल मत करना। मसूरी के ट्रीप को और यादगार बनाता है वहां का केंपटी फॉल्स। केंपटी फॉल्स करीब 40 फीट की ऊंचाई से नीचे गिरता झरना है तो देखने में काफी खूबसूरत लगता है। झरने के नीचे लोग पानी में नहाते हैं और मस्ती करते हैं। ये मस्ती आप भी कर सकते हैं। यहां आपको हर वक्त ही पर्यटकों की अच्छी खासी भीड़ नजर आएगी। देहरादून के अधिकतर लोग यहां पर वीकेंड पर मस्ती करने आते हैं। इस लिए यहां पर हमेशा भीड़ रहती है।

इसे भी पढ़िए :  देशभर में साधु संताओं के रहने और भोजन की भी हो व्यवस्था

लाल टिब्बा
मसूरी का एक बहुत ही मशहूर केफे है लाल टिब्बा। यहां पर जाने के लिए आपको एक किलोमीटर का ट्रेक करके जाना होगा। इस ट्रेक के दौरान आप काफी सुंदर नजारे देखेंगे। आपको पता भी नहीं चलेगा की कब लाल टिब्बा आ गया है। लाल टिब्बा पुराने जमाने का केफे है। यहां पर आप इस एरिया के सबसे ऊंचे प्वाइंट पर पहुंच जाएंगे। केफे के टॉप पर बैठ कर आप खाने के लिए कुछ भी ऑर्डर कर सकते हैं और खुले आसमान के नीचे खूबसूरत नजारों के साथ लंच, डीनर स स्नैक का लुफ्त उठा सकते हैं।

माल रोड
मसूरी का माल रोड काफी हेपनिंग प्लेस है। यहां पर काफी भीड़-भाड़ होती है। आप शाम के समय यहां घूम सकते हैं काफी मजा आता है। खाने के लिए काफी अच्छे ऑप्शन भी है। यहां का कॉर्न काफी टेस्टी होता है। कॉर्न का स्टॉल आपकों हर थोड़ी देर की वॉक पर मिल जाएगा।

इसे भी पढ़िए :  बरेली में पलायन करके पहुंचे लोगों पर केमिकल का छिड़काव, प्रियंका गांधी ने किया ट्वीट

कैसे जाएं
अगर आप दिल्ली से मसूरी जा रहे हैं तो रास्ता बेहत आसान है। अपनी गाड़ी से आपको मसूरी पहुंचने में 6 से 7 घंटे लगेंगे। अगर आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट से जाते हैं तो कश्मीरी गेट और आनंद बिहार से आपको देहरादून के लिए बस मिल जाएगी। देहरादून के रेलवे स्टेशन के बाहर से आपको मसूरी की बस बदलनी पड़ेगी। मसूरी आ रहे हैं तो सबसे अच्छा है कि आप अपनी गाड़ी या टेक्सी से आये क्योंकि यहां पर अगर आप आकर लोकल साइटसीन के लिए टेक्सी लेते हैं तो आपको एक किलोमीटर के लिए 100 रुपये देने होंगे। 100 रुपये पर किलोमीटर यहां टेक्सी का किराया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three + eighteen =