पाकिस्तान क्रिकेट के ‘प्रॉब्लम ब्वॉय’ Umar Akaml के कॅरियर पर संकट 

12
loading...

लाहौर 21 मार्च। Umar Akaml की आदतों से सभी परिचित हैं!! बेहतरीन ही नहीं, महान बल्लेबाज बनने के गुण थे इस बल्लेबाज में, लेकिन ऐसी आदतें लगीं कि करियर का ही बंटाधार हो गया! अब ये भाई साहब एक नए मामले में फंसते दिखाई पड़ रहे हैं. और इन्हें झेलना पड़ सकता है जीवन प्रतिबंध! पिछली बार 20 फरवरी को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई ने  Umar Akaml को अस्थायी रूप से निलंबित किया था. बहरहाल, इस बार  Umar Akaml पर बड़े आरोप लगे हैं. पीसीबी  ने अकमल पर भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत आरोप लगाए हैं. और बोर्ड ने उन्हें दो नियमों के उल्लंघन का दोषी पाया है. इसके तहत सुपर लीग के दौरान उमर अकमल को फिक्सिंग का ऑफर मिला था, लेकिन उन्होंने इसकी सूचना पीसीबी को नहीं दी

इसे भी पढ़िए :  Kiara Advani के टॉपलेस फोटो में साथ नजर आए डब्बू रतनानी

नियमों के अनुसार जब भी किसी खिलाड़ी को फिक्सिंग की पेशकश मिलती है, तो उसे तुरंत ही इसकी सूचना टीम मैनेजर या भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई के अधिकारी को देनी होती है. और अगर खिलाड़ी दोषी पाया जाता है तो उस पर छह महीने से लेकर आजीवन प्रतिबंध लगाया जा सकता है. अपने ऊपर लगे आरोपों पर लिखित में जवाब देने के लिए उमर के पास 14 दिन (31 मार्च) तक का समय है.

इसे भी पढ़िए :  महापुरुषों पर बनने वाली फिल्मों में छेड़छा़ड़ बर्दाश्त नहीं : क्षत्रिय महासभा

बताते चले कि उमर अकमल को पाकिस्तान क्रिकेट का प्रॉब्लम ब्वॉय कहा जाता है. वह मैदान ही नहीं, इसके बाहर भी विवादों में रहे हैं. साल 2014 में ट्रैफिक पुलिस से झगड़ा करने के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था. वहीं, साल 2017 में पाकिस्तानी कोच मिकी ऑर्थर से उलझने के बाद अकमल को तीन महीने का बैन झेलना पड़ा था.
वास्तव में यह कहना गलत नहीं होगा कि ये उमर ही हैं कि जिन्होंने अपनी हरकतों से अपने करियर में पलीता लगाने का काम किया है, लेकिन इस बार आरोप बड़ा लगा है और उनका करियर ही भंवर में फंसता दिखाई पड़ रहा है. क्या वह बच पाएंगे? यह अगले चंद दिनों में साफ हो जाएगा.

इसे भी पढ़िए :  केंद्र सरकार के आज रिटायर होने वाले कर्मचारियों को एक्सटेंशन नहीं मिलेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + four =