मुंबई क्राइम ब्रांच ने पकड़ी नकली सेनिटाइजर बनाने वाली फैक्ट्री

15
loading...

मुंबई 31 मार्च। जहां करोना वायरस को लेकर एक तरफ सेनिटाइजर इस्तेमाल करने को लेकर हिदायत दी जा रही है वहीं कुछ लोगों द्वारा इसकी आड़ में कालाबाजरी को अंजाम दिया जा रहा था। इसी मामले का खुलासा मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम की ओर से साकीनाका स्थित एक कंपनी पर छापा मारकर किया गया। यहां एक कंपनी की आड़ में नकली सेनिटाइजर बनाया जा रहा था। छापे की कार्रवाई मुंबई क्राइम ब्रांस के डीसीपी अकबर पठान के नेतृत्व में की गई।

इसे भी पढ़िए :  8 जून से पूरी तरह खुलेंगे जिला न्यायालय व अधिकरण: इलाहाबाद हाईकोर्ट

क्राइम ब्रांच की टीम ने मौके से लगभग 1632 बड़ी और छोटी सेनिटाइजर की बोतलें बरामद की हैं। जिस कम्पनी के नाम इस्तेमाल सेनिटाइजर बनाने के लिए किया जा रहा था वह कम्पनी सेनिटाइजर बनाती ही नहीं है।
क्राइम ब्रांच की टीम ने सेनिटाइजर की जो बोतलें मौके से बरामद की है वह अलग-अलग मात्रा में पैक की जा रही थी। आरोपी का नाम दिलीप चमरिया है

इसे भी पढ़िए :  धरती पर अंतरिक्ष से 5.2KM/सेकेंड से आ रही आफत

दरअसल मुंबई क्राइम ब्रीच यूनिट-7 को सूचना मिली थी कि साकीनाका स्थित एक कंपनी में नकली सेनिटाइजर बनाया जा रहा है। जिसे लेकर उन्होंने एक टीम बनाई और आज छापा मारा तो पाया कि किसी और कंपनी की आड़ लेकर बिना लाइसेंस के सेनिटाइजर बनाया जा रहा है। सेनिटाइजर की बोतल मौके अलग-अलग मात्रा में बरामद की गई हैं। सेनिटाइजर के 500 लीटर के 360 केन और 1632 बोतल बरामद की गई। फिलहाल आरोपी पे मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर आगे की जांच शुरू कर दी गई है।

इसे भी पढ़िए :  जाने-माने फिल्म निर्देशक बासु चटर्जी का हुआ निधन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 − 14 =