आम आदमी को निःशुल्क उच्च स्तरीय चिकित्सा प्राप्त हो, बजट में की जाए व्यवस्था

16
loading...

केंद्र सरकार कुछ विकसित देशों में नागरिकों को दी जाने वाली कुछ सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रयास कर रही है। अपने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के अमेरिका के राष्ट्रपति श्री डोनाल्ड ट्रंप से फिलहाल अत्यंत मधुर संबंध हैं। और एक दूसरे के सहयोग की बातें भी खूब की जा रही हैं। मैं खुद तो कभी विदेश नहीं गया लेकिन जितना सुनते हैं उससे पता चलता है कि अमेरिका जैसे देशों में वहां के नागरिकों को निःशुल्क अच्छी चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाती है।

इसे भी पढ़िए :  कुणाल जाधव ने बहादुरी और देशभक्ति की शानदार मिसाल पेश की

हमारे कुछ विचारक हस्तियों द्वारा देश के अस्पतालों में किश्तों पर इलाज कराने की सुविधा दिए जाने की मांग बजट में की जा रही है। जिसके तहत अस्पतालों में इलाज के खर्च को 12 मासिक किश्तों यानी ईएमआई के आधार पर चुकाने की योजना को लागू किए जाने की सरकार से मांग की गई है। मधुमेह, केैंसर, रक्तचाप, दर्द, जलन और सूजन जैसी बीमारियों से पीड़ितों को राहत दिलाने के भी उपाय सुझाए गए हैं। मेरा मानना है कि सरकार स्वास्थ्य क्षेत्र का बजट इतना निर्धारित करें कि एक सीमा तक आय वालों को छोड़कर बाकी हर नागरिक को निःशुल्क चिकित्सा सुविधा हर बीमारी की प्राप्त हो और वो पूरी तौर पर भ्रष्टाचार से मुक्त रह सके। जनहित में इसके भी उपाय किए जाने चाहिए।

इसे भी पढ़िए :  Malaika Arora ने खोला अपने ऑडिशन से जुड़ा राज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four + 5 =