घुसपैठियों के समर्थन से चलती है कांग्रेस की राजनीति, CAB पर फैला रही है झूठ : नरेंद्र मोदी

32
loading...

नई दिल्ली, 12 दिसंबर।   झारखंड विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का मतदान जारी है. इस बीच धनबाद में आज प्रधानमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के स्टार कैंपेनर नरेंद्र मोदी धनबाद में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे. हवाई अड्डा मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि प्रदेश में पूर्ण बहुमत के साथ बीजेपी की सरकार बनने वाली है.

पीएम मोदी ने कहा कि बीते दो फेज के चुनाव में झारखंड की जनता ने पूरे उत्साह के साथ मतदान किया है. मुझे विश्वास है कि शेष बचे चरणों में भी अधिक से अधिक मतदान होगा और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनेगी.

मैं नॉर्थ ईस्ट के, विशेषकर असम के भाइयों-बहनों को, वहां के युवा साथियों को अपील करता हूं कि आप अपने इस सेवक पर, अपने इस मोदी पर विश्वास रखिए. मैं नॉर्थ ईस्ट के भाइयों बहनों की किसी परंपरा-भाषा-रहन सहन, संस्कृति पर आंच नहीं आने दूंगा.

मैं नॉर्थ-ईस्ट और पूर्वी भारत के हर राज्य, हर जनजातीय समाज को आश्वस्त करना चाहता हूं. असम सहित नॉर्थ ईस्ट के अलग-अलग क्षेत्रों की परंपराओं, वहां की संस्कृति, वहां की भाषा को मान-सम्मान देना, उसे संरक्षण देना, उसे और समृद्ध करना, भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिकता है.

31 दिसंबर 2014 तक जो भारत आए उन शरणार्थियों के लिए ही ये व्यवस्था है. इतना ही नहीं नॉर्थ ईस्ट के करीब-करीब सभी राज्य इस कानून के दायरे से बाहर हैं. लेकिन फिर भी कांग्रेस और उसके सहयोगी दल जिनकी राजनीति घुसपैठियों के समर्थन से चलती है वो वहां भ्रम फैलाने का प्रयास कर रहे हैं. उनकी राजनीति घुसपैठियों के सहारे चलती है.

इसे भी पढ़िए :  मध्य प्रदेश: सरकारी अस्पताल की बड़ी लापरवाही, स्ट्रेचर पर 11 दिन से पड़ी लावारिस लाश बनी कंकाल

राजनीति के लिए ही कांग्रेस और उसके साथी नॉर्थ ईस्ट में भी आग लगाने की कोशिश कर रहे हैं. वहां भ्रम फैलाया जा रहा है कि बांग्लादेश से बड़ी संख्या में लोग आ जाएंगे. जबकि ये कानून पहले से ही भारत आ चुके शरणार्थियों की नागरिकता के लिए है.

दस साल पहले जब अफगानिस्तान में तालिबान के हमले बढ़े, तो दर्जनों ईसाई परिवार भी किसी तरह अपनी जानकर बचाकर भारत ही आए थे. भारत इसलिए आए थे क्योंकि उनके भी पुरखे इसी धरती से जुड़े हुए थे. लेकिन इन लोगों का भारत में आने के बाद कांग्रेस की सरकार ने साथ नहीं दिया. आज जब ऐसे लाखों गरीब, प्रताड़ित, वंचित, शोषित, दलित परिवारों, सिख परिवारों को, ईसाई परिवारों को, भाजपा ने अपने वादे के अनुसार नागरिकता देने का कानून बनाया तो कांग्रेस और उसके साथी, उसका भी विरोध कर रहे हैं.

लाखों साथी पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भारत आए. दशकों से वो भारत में रह रहे हैं. उनको राजनीति के लिए उपयोग तो किया गया, लेकिन उनको नागरिकता को लेकर सिर्फ वादे मिले. जिस गरीबी, गंदगी और उपेक्षा की स्थिति में वो पाकिस्तान में थे, कांग्रेस की सरकारों ने यहां भी उनके साथ वही बर्ताव किया.

इसे भी पढ़िए :  23 सितंबर को लॉन्च होगी Toyota Urban Cruiser, प्री-बुकिंग पर मिल रहा है ये ऑफर

आजादी के बाद से ही यहां का जनजातीय समाज, यहां का पिछड़ा समाज अलग राज्य की मांग कर रहा था. लेकिन कांग्रेस ने अपने राजनीतिक हितों को ऊपर रखा, आपकी बात नहीं सुनी और पांच दशक तक आपके लिए अलग झारखंड नहीं बना.

बीजेपी ने गरीब के हित में, सामान्य वर्ग के गरीब को भी 10 प्रतिशत आरक्षण दे दिया. ये हमारी राष्ट्रनीति है.

बीते 6 महीने में जितने भी काम हुए हैं, जितने भी फैसले लिए गए हैं, इनमें से अनेक ऐसे थे, जो दशकों से लटके हुए थे. इनको लटकाने का श्रेय कांग्रेस और उसके सहयोगियों को जाता है, जिन्होंने सबसे ज्यादा समय तक देश पर शासन किया.

हमने ये भी कहा था कि, तीन तलाक की जो कुप्रथा इस देश में करोड़ों बहनों को नर्क का जीवन जीने के लिए मजबूर कर रही है, उससे मुक्ति दिलाएंगे. आज तीन तलाक के विरुद्ध सख्त कानून बन चुका है. इस कानून ने लाखों-करोड़ों मुस्लिम बहनों-बेटियों का जीवन सुरक्षित किया है.

राम जन्मभूमि को लेकर जो विवाद है उसे सदियों से कांग्रेस ने जानबूझकर उलझाया, बार-बार उलझाया. हमने कहा था, हमारे संकल्प पत्र में कि राम जन्मभूमि विवाद को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाएंगे. हमने वह कर दिखाया.

बीजपी ने आपसे ये कहा था कि देश में एक ही संविधान लागू करेंगे. जम्मू कश्मीर में भी भारतीय कानून लागू करेंगे. अनुच्छेद 370 हटाने का वादा हमने निष्ठा और ईमानदारी से पूरा किया. आज जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हट चुका है और भारत का संविधान पूरी तरह से वहां लागू है.

इसे भी पढ़िए :  मोदी के राज में कम हो रही है हिदू मुस्लिम के बीच की दूरी

आज पूरा देश बीजेपी पर विश्वास करता है क्योंकि वह बीजेपी ही है जो संकल्प लेने के बाद उसे सिद्ध भी करती है. जो वादा हम देश के लोगों से करते हैं उसपर पूरी इमानदारी से अमल करते हैं.

कांग्रेस ने देश के सामने एक विचित्र माहौल बनाया. इसके कारण ही घोषणा पत्र और नेताओं के वादों पर देशवासियों का भरोसा उठ गया था. लोगों को लगने लगा था नेता चुनाव के दौरान घोषणा करते हैं और भूल जाते हैं. लोगों के मन में कांग्रेस ने भावना भरी है. कांग्रेस, जेमएम और बचे-खुचे वामपंथी यही करते रहे.

बीजेपी ने बीते दिनों में दिखाया है कि संकल्प कितना भी कठिन क्यों नहीं हो हम उसे पूरा करने के लिए दिन-रात एक कर देते हैं. हम देशवासियों के संकल्प पूरे करने के लिए काम करते रहते हैं. छह महीने पहले हमने कहा था कि झारखंड सहित देश के हर किसान के खाते में सीधी मदद पहुंचाएंगे जिसे हमने पूरा भी किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × two =