वाकई नागरिक मित्र लगी कोलकाता पुलिस कहीं चालान और जाम दिखाई नहीं दिया

49
loading...

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में वहां की पुलिस वाकई नागरिकों की मित्र और सहयोगी की भूमिका में नजर आई। बीती 4 दिसंबर को वरिष्ठ स्वतंत्र पत्रकार डा. संजय गुप्ता व आॅल इंडिया न्यूज पेपर एसोसिएशन आईना के राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि कुमार बिश्नोई, गौरी मीडिया गुप व आॅन लाइन न्यूज चैनल न्यूज फस्र्ट के चेयरमैन डा. ललित भारद्वाज, आरकेबी फाउंडेशन व सोशल मीडिया एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव अंकित बिश्नोई, कौमी एकता संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष व्यापारी व भाजपा नेता संदीप गुप्ता ऐल्फा कोलकाता में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने हेतु अपने एक दिवसीय दौरे पर वहां गए। यह देखकर बड़ा अच्छा लगा कि सड़कों पर कहीं जाम नहीं था और ना ही कोई ज्यादा अतिक्रमण दिखाई दिया। और सबसे अच्छी बात यह नजर आई कि हवाई अडडे से लेकर मीटिंग स्थल तक पुलिस और ट्रैफिक पुलिस विभिन्न चोैराहों पर अलर्ट रहकर अपनी डयूटी निभाती नजर आई। लगभग छह घंटे के भ्रमण के दौरान कहीं भी ना तो पुलिस कर्मी वाहन रोककर जबरदस्ती चालान और किसी को परेशान करते दिखाई नहीं दिए। ज्यादा समय के लिए जाम भी लगा नजर नहीं आया।

इसे भी पढ़िए :  संसद में बोले राजनाथ-LAC पर चीन ने जुटाए सैनिक और गोला बारूद, हमारी सेना भी तैयार

विश्व प्रसिद्ध काली माता के मंदिर पर आने वाले भक्तों का सहयोग करते हुए पुलिस जरूर दिखाई दी। कितने ही नागरिकों ने पूछने पर बताया कि पुलिस कमिश्नर क्योंकि समय समय पर खुद भ्रमण करते हैं और छोटी छोटी बातों को गंभीरता से लेकर उनका समाधान करते है। और अगर किसी को पुलिस से शिकायत होती है तो उसे तुरंत निपटाकर नागरिकों को पुलिस सहयोग और भयमुक्त वातावरण में सांस लेने का अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रयत्नशील रहते हैं। उनके दफ्तर में हर आम और खास नागरिक को सम्मान दिया जाता है इसलिए सहयोगी पुलिसकर्मी भी उनका अनुसरण करते नजर आते हैं। विक्टोरिया टर्मिनल पर घुड़सवार पुलिस बड़े ही व्यवस्थित तरीके से व्यवस्थाओं का निरीक्षण करती नजर आई। कुल मिलाकर कोलकाता की पुलिस व्यवस्था काफी सराहनीय और प्रशंसनीय लगी।

इसे भी पढ़िए :  सेवानिवृति के बाद एक उपजिलाधिकारी की पेंशन से होगी 50 प्रतिशत की कटौती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen + twelve =