आने वाले 3 दिनों में 4 अहम फैसले सुनाएंगे चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई, जानिए…

15
loading...

नई दिल्‍ली, 12 नवंबर।  सुप्रीम कोर्ट के चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई अगले तीन दिनों में चार अहम मामलों पर फ़ैसला सुनाएंगे. चीफ़ जस्टिस 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं. सेवानिवृत्त होने से पहले चीफ़ जस्टिस को अपनी सुनवाई के सभी मामलों में फ़ैसला सुनाना है.

इस हफ़्ते सोमवार और मंगलवार को गुरू नानक देव की जयंती के अवसर पर सुप्रीम कोर्ट में छुट्टी है. इसके बाद 17 नवंबर को चीफ़ जस्टिस के सेवानिवृत्त होने से पहले 16 और 17 नवंबर को शनिवार व रविवार का अवकाश है. इस कारण चीफ़ जस्टिस को सुनवाई के सिर्फ़ तीन दिन 13, 14, 15 नवंबर ही मिलेंगे.

इसे भी पढ़िए :  मद्रास उच्च न्यायालय ने पेरियार पर टिप्पणी को लेकर रजनीकांत के खिलाफ मामला खारिज किया

-राफेल मामले में पिछले साल 14 दिसंबर को दिए सुप्रीम कोर्ट के निर्णय की पुनर्विचार की मांग के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा व अरुण शौरी समेत कई अन्य लोगों की तरफ से दाखिल याचिका पर लेना है निर्णय.

-राफ़ेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट के पुराने फ़ैसले को लेकर चुनावी दिनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘चौकीदार चोर है’ के नारे का इस्तेमाल करने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ दाखिल सुप्रीम कोर्ट की अवमानना याचिका पर देना है निर्णय.

इसे भी पढ़िए :  जस्टिस बोबडे के कथन से; टैक्सों के बोझ से दबते जा रहे आम आदमी को मिल सकती है राहत

-केरल के सबरीमाला मंदिर में हर आयु की लड़कियों और महिलाओं को प्रवेश दिए जाने के सुप्रीम कोर्ट के 29 सितंबर 2018 के फैसले की दोबारा समीक्षा के लिए दाखिल याचिकाओं पर फ़ैसला सुनाना है.

-दिल्ली हाईकोर्ट की तरफ से सीजेआई ऑफिस को सूचना अधिकार कानून के दायरे में लाने के आदेश के खिलाफ 2010 में सुप्रीम कोर्ट के सेक्रेटरी जनरल व सेंट्रल पब्लिक इंफार्मेशन ऑफिसर की तरफ से दाखिल तीन याचिकाओं पर चार अप्रैल को सुरक्षित रखे गए निर्णय को सुनाना.

इसे भी पढ़िए :  नागरिकता कानून को लेकर फिल्म अभिनेताओं की जंग; नसीरूददीन शाह साहब से आखिर जन्म प्रमाण मांगा किसने है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × five =