पुणे में ‘कर्नल’ दिलीप और इंजी को पीछे छोड़ सकते हैं विराट कोहली

24
loading...

नई दिल्ली, 09 अक्टूबर।    मेजबान भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेला गया पहला टेस्ट मैच, रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल और रविचंद्रन अश्विन के नाम रहा. इन तीनों का प्रदर्शन इतना दमदार रहा कि बाकी खिलाड़ियों को ज्यादा मौका ही नहीं मिला. ऐसे में वे खिलाड़ी, जिन्हें विशाखापत्तनम टेस्ट में ज्यादा मौका नहीं मिला, वे पुणे में इसकी कसर निकालने की कोशिश करेंगे. ऐसे खिलाड़ियों में भारतीय कप्तान विराट कोहली भी शामिल हैं. विराट अगर अपना औसत प्रदर्शन भी करते हैं, तो वे पुणे टेस्ट मैच के दौरान दिलीप वेंगसरकर को पीछे छोड़ सकते हैं.

इसे भी पढ़िए :  सचिन अवस्थी को लंदन में मिला प्रतिष्ठित 'ग्लोबल हयूमेनेटेरियन' अवार्ड

विराट कोहली ने 80 टेस्ट मैचों में 6800 रन बनाए हैं. उनका औसत 53.12 है. विराट अपने टेस्ट करियर में 25 शतक और 22 अर्धशतक लगा चुके हैं. वे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में 20 और 31 रन की पारियां ही खेल सके थे. विराट इसकी कसर गुरुवार से शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट में निकालने की कोशिश करेंगे.

विराट कोहली अगर पुणे टेस्ट मैच में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो वे ‘कर्नल’ के नाम से लोकप्रिय पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर को सबसे अधिक रनों के मामले में पीछे छोड़ सकते हैं. ‘कर्नल’ दिलीप के नाम 116 टेस्ट में 6868 रन दर्ज हैं. दिलीप वेंगसरकर ने साल 1976 से 1992 के बीच खेले गए टेस्ट मैचों में 17 शतक लगाए थे. उनका औसत 42.13 रन है.

इसे भी पढ़िए :  कोरोना से बचाएगा एंटी माइक्रोवियल फाइबर से बना कपड़ा

विराट कोहली अगर पुणे टेस्ट मैच में शतक लगाते हैं तो वे पाकिस्तानी दिग्गज इंजमाम उल हक को पीछे छोड़ सकते हैं. विराट कोहली और इंजमाम उल हक दोनों के ही नाम अभी 25-25 टेस्ट शतक दर्ज हैं. कोहली अगर पुणे में शतक बनाते हैं तो वे ना सिर्फ इंजी को पीछे छोड़ेंगे, बल्कि स्टीवन स्मिथ और गैरी सोबर्स की बराबरी भी कर लेंगे. ऑस्ट्रेलिया के स्मिथ और वेस्टइंडीज के सोबर्स ने टेस्ट मैचों में 26-26 शतक बनाए हैं.

इसे भी पढ़िए :  वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर सर एवर्टन वीक्स का निधन, क्रिकेट जगत ने जताया शोक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − 1 =