9वीं कक्षा की परीक्षा में पूछा गया अजीबो-गरीब सवाल, ‘गांधी जी ने आत्महत्या कैसे की?’

11
loading...

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर।    गुजरात की 9वीं कक्षा की इंटरनल परीक्षा में एक चौंका देने वाला सवाल पूछा गया है. परीक्षा में बच्चों से पूछा गया, ‘गांधी जी ने आत्महत्या कैसे की’. इस तरह का अजीबो-गरीब सवाल पूछे जाने का मामला सामने के बाद अधिकारियों ने इसकी जांच शुरू कर दी है.

जिस स्कूल में यह सवाल पूछा गया है वह ‘सुफलाम शाला विकास संकुल’ के बैनर तले चलने वाले विद्यालयों में से एक है. ‘सुफलाम शाला विकास संकुल’ कुछ स्ववित्तपोषित विद्यालयों और शैक्षणिक संस्थानों का संगठन है. सुफलाम शाला संगठन को गांधीनगर में सरकारी अनुदान मिलता है.

इसे भी पढ़िए :  शीतकालीन सत्र के लिए केंद्र सरकार का टारगेट, कई अहम बिलों को कराना है पास

गांधीनगर के जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया, ‘स्व वित्तपोषित स्कूलों के एक समूह ने और अनुदान प्राप्त करने वाले स्कूलों ने ये दोनों प्रश्न शनिवार को हुई अपनी आंतरिक परीक्षाओं में शामिल किए थे. ये प्रश्न बहुत आपत्तिजनक हैं और हमने इनकी जांच शुरू कर दी है. रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी.’

इसे भी पढ़िए :  सभी मिलकर कराएं नागरिकता संशोधन विधेयक पास

नेता विपक्ष परेश धनानी ने इस मसले को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने इसे इतिहास से छेड़छाड़ करार दिया. उन्होंने कहा, ‘गांधीजी के खून के छींटे जिन लोगो के कपड़ों पर पड़ें हैं, वे लोग अब महात्मा गांधी के विचारों की हत्या कर रहे हे. गांधी और सरदार के गुजरात में गांधी के विचारों को मारने के लिए साजिश रची जा रही है. गांधीजी और उनके विचारों का खून करने की कोशिश कर रहे लोगों का समर्थन सत्ता में बैठे लोग कर रहे हे. ‘

इसे भी पढ़िए :  संसद के शीतकालीन सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक में शिवसेना सांसद भी पहुंचे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × 5 =