गहने पहनना भावना से जुड़ा मामला : राधिका आप्टे

97
loading...

नई दिल्ली । बालीवुड अभिनेत्री राधिका आप्टे का कहना है कि गहने पहनना उनकी पसंद तक सीमित नहीं बल्कि मेरे लिए यह भावनाओं से जुड़ा मामला है। आप्टे यहां प्रगति मैदान में उत्तर भारत की सबसे बड़ी तीन दिवसीय (28-30 सितम्बर तक) ‘‘दिल्ली ज्वैलरी एवं जैम्स फेयर’ (डीजेजीएफ) नामक अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी के उद्घाटन अवसर पर बोल रही थीं।

राधिका आप्टे ने कहा, ‘‘आधुनिक समय में, आभूषणों का विस्तार हुआ है और इसके भावनात्मक मूल्य, फैशन और नुमाइश बढ़े हैं। ऐसे में सही गहने खरीदना जरूरी हो जाता है। बार-बार बदलते फैशन ट्रेंड के साथ, आपको अपने लिए ऐसे क्लासिक और अनमोल गहनों की ज़रूरत होती है, जिन्हें विभिन्न आयोजनों में पहना जा सकता है।’ आप्टे ने कहा ‘‘उत्तर भारत हमेशा पारंपरिक, क्लासिक और बोल्ड डिजाइनों को पसंद करता है।

जब उनसे पूछा गया कि आपको कैसे गहने और आभूषण पहनना पसंद है तो उन्होंने कहा कि मेरे लिए भावनाओं से जुड़ा मामला है, क्योंकि मैं वही गहने पहनना पसंद करती हूं जो मेरी मां मेरे लिए पसंद करती हैं। उनकी पसंद इस मामले में लाजवाब है। प्रदर्शनी में 300 से ज्यादा प्रदर्शक अपने 650 से ज्यादा ब्रांड प्रदर्शित कर रहे हैं।

प्रदर्शनी के शुभारंभ के अवसर पर बॉलीवुड सेलिब्रिटी राधिका आप्टे और जीजेईपीसी के कार्यकारी निदेशक सब्यसाची रे के साथ-साथ योगेश सिंघल – अध्यक्ष, द बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन, माइकल डक- चीन के कार्यकारी उपाध्यक्ष और इंफोर्मा मार्केट्स ग्रुप के मुख्य प्रतिनिधि, योगेश मुद्रा, भारत में इंफोर्मा मार्केट के प्रबंध निदेशक और अभिजीत मुखर्जी – भारत में इंफोर्मा मार्केट के ग्रुप डायरेक्टर आदि शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen + four =