अमेरिका में निजता के उल्लंघन पर YouTube पर लगा 1400 करोड़ रुपये का जुर्माना

10
loading...

वाशिंगटन : निजता उल्लंघन में facebook के बाद अब गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब पर भारी भरकम जुर्माना लगा है। अमेरिकी नियामक ने Youtube पर 20 करोड़ डॉलर (करीब 1400 करोड़ रुपये) तक का जुर्माना लगाया है। यह कार्रवाई बच्चों के निजता उल्लंघन के मामले में की गई है। बच्चों की निजता से जुड़े किसी मामले में यह अब तक का सबसे बड़ा जुर्माना बताया जा रहा है।

इसे भी पढ़िए :  EU में भी पाकिस्तान को फटकार : भारत में चांद से नहीं आते आतंकी, पड़ोसी देश में है पनाहगाह

अमेरिकी उपभोक्ता सुरक्षा एजेंसी फेडरल ट्रेड कमीशन (एफटीसी) ने यूट्यूब पर लगे आरोपों का निपटारा करते हुए यह जुर्माना लगाया है। इस पर अभी अमेरिका के न्याय विभाग की मुहर लगनी बाकी है। एफटीसी के फैसले का विस्तृत विवरण अभी तक जारी नहीं किया गया है। इस मामले से जुड़े तीन लोगों ने यह जानकारी दी है। बच्चों की निजता से जुड़े एक मामले में एफटीसी ने इसी साल सोशल वीडियो शेयरिंग एप tiktok के मालिकों पर रिकार्ड 57 लाख डॉलर (करीब 40 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया था।

इसे भी पढ़िए :  ट्विटर ने बंद किया Fake news फैलाने वाले हजारों खाते

20 समूहों ने की थी शिकायत : बच्चों की निजता के करीब 20 हिमायती समूहों ने पिछले साल एफटीसी में यूट्यूब के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें आरोप लगाया गया था कि यह Video प्लेटफार्म बच्चों की निजी जानकारी जुटा रहा है और लाभ उठा रहा है। यह संघीय निजता कानून का उल्लंघन है।

इसे भी पढ़िए :  क्‍या WhatsApp और इंस्टाग्राम को बेचेंगे जुकरबर्ग? जानिए फेसबुक संस्‍थापक ने क्‍या कहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × five =