Ashok Leyland अपने कर्मचारियों को नौकरी छोड़ने के लिए दे रही है ये खास offer

44
loading...

नई दिल्ली, 19 अगस्त।    Auto sector में मंदी का दौर जारी है और लाखों नौकरियों पर खतरा मंडरा रहा है। इस बीच कमर्शियल वाहन निर्माता कंपनी Ashok Leyland ने कार्यकारी स्तर के कर्मचारियों को नौकरी छोड़ने के लिए एक खास योजना की घोषणा की है। कंपनी इस योजना को ऐसे समय में लाई है जब पहले से ही उसके कर्मचारी बोनस बढ़ाने को लेकर शुक्रवार से हड़ताल पर बैठे हुए हैं।

Ashok Leyland के कर्मचारी Union के सूत्रों ने बताया कि “हम अपना हड़ताल जारी रख रहे हैं और Management ने सोमवार तक कारखाने में काम बंद किया हुआ है। हम तब तक हड़ताल जारी रखेंगे जब तक Management उपयुक्त समाधान लेकर नहीं आती।” Union ने बोनस में 10% वृद्धि की मांग की है, जबकि प्रबंधन 5% वृद्धि के लिए तैयार है।

इसे भी पढ़िए :  अगर पार्टनर करें ऐसा व्यवहार, तो रिश्ते में आ सकती है दरार

इस बीच हिंदुजा समूह की कंपनी ने कर्मचारियों के लिए एक notice जारी किया है, जो कि Voluntary retirement scheme (VRS) तथ Employee separation scheme (ESS) की पेशकश की है। सूत्रों के मुताबिक जो कर्मचारी VRS के लिए पात्र नहीं है उनके लिए ESS की पेशकश की गई है।

इसे भी पढ़िए :  48 ENBA अवॉर्ड्स जीतकर इंडिया टुडे ग्रुप ने रचा इतिहास

इन दिनों Auto industry मंदी की चपेट में है और कई बड़ी Auto companies घटती मांग के चलते अपना प्रोडक्शन कम कर रही हैं। अभी तक लाखों कर्मचारियों की नौकरियां जा चुकी हैं। दो दशकों में इस इंडस्ट्री ने पहली बार इतनी ज्यादा मंदी का सामना किया है। इससे पहले 2000 में Automobile industry ने इससे भी बड़ी मंदी का सामना किय था। मंदी के चलते देश की जानी-मानी कार निर्माता कंपनी Maruti Suzuki के 3 हजार से अधिक अस्थायी कर्मचारियों को अपनी नौकरी से हाथ धोने पड़े हैं।

इसे भी पढ़िए :  29 अप्रैल को खुलेंगे केदारनाथ मंदिर के कपाट

 

by : natasha

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 + three =