पुलवामा के पीछे से ‘आतंकी हमला’ हटा कर देखें यहां की करिश्माई खूबसूरती

6
loading...

Jammu and Kashmir के Pulwama का नाम आपने अकसर Media की सुर्खियों में सुना होगा। हाल ही में Pulwama में एक बड़ा Terror attack हुआ था जिसमें भारतीय सेना के 40 जवान शहीद हो गये थे। दुनिया भर में इस हमले की कड़ी निंदा हुई थी, तभी से कश्मीर घाटी के पुलवामा के नाम के पीछे ‘आतंकी हमला’ जोड़ दिया गया। लेकिन अगर Pulwama नाम के पीछे से अगर आप ‘Terror Attack’ हटा देंगे तो Pulwama वापस अपने अस्तित्व में आ जाएगा, क्योंकि Pulwama घाटी के खूबसूरत जगहों में से एक है। Pulwama में जहां एक ओर लोग शहरी जीवन जीते हैं तो दूसरे ओर प्रकृति की खूबसूरती का आनंद लेते हैं। ऊंचे पहाड़, हरे पेड़-पौधों से भरा जंगल, पहाड़ों तो चीरता झरने का पानी… हिमालय से निकली नदी में बहता शीतल जल, किसानों की लहराता फसलें, कश्मीरी खूबसूरत से भरा गांव… यहां बहुत कुछ है देखने के लिए।

इसे भी पढ़िए :  Laal Kaptaan Teaser: सैफ अली खान को जन्मदिन पर मिला लाल कप्तान के मेकर्स से तोहफा, फिल्म का फर्स्ट लुक रिलीज

Avantishwar Temple
पुलवामा में एक प्राचीन मंदिर है, जिसे लोग तीर्थ स्थल मानते हैं। इस मंदिर का नाम अवंतीश्वर मंदिर है। यह मंदिर हिंदू धर्म के पूजनीय भगवान विष्णु को और देवों के देव महादेव को समर्पित है। देश-दुनिया के लोग इस मंदिर में दर्शन के लिए आते हैं, क्योंकि अपनी बनावट के कारण ये पर्यटकों का लोकप्रिय केंद्र है।

इसे भी पढ़िए :  सभी फिल्मी सितारों ने ऐसे मनाया रक्षाबंधन, देखें तस्वीरें....

Arabal Waterfall
पुलवामा में वैसे तो बहुत से झरने हैं। सभी झरनों की अपनी-अपनी खूबसूरती होती हैं, लेकिन पुलवामा का अहरबल झरना यहां का सबसे खूबसूरत झरना माना जाता है। इस झरने को बहता देख ये नजारा आपकी आंखों में बस जाएगा। जिसे आप शायद ही भुला पाए! देवदार पेड़ो से घिरी घाटी के संकरी घाट से निकला ये 25 Meter का झरना आपकी पलकें झपकने नहीं देगा।

Shikargarh
एक समय था जब पुलवामा के शिकारगढ़ में अमीर लोग जानवरों का शिकार करने के लिए आया करते थे। वन्यजीवों के लिए ये जगह जानी जाती हैं। आज शिकारगढ़ लोगों के लिए Picnic की जगह बन गई है। यहां लोग घूमने-फिरने आते हैं। पुलवामा का मौसम पूरे साथ सुहाना होता है। सर्दियों में धूप थोड़ा कम निकलती है। पुलवामा आप साल के किसी भी मौसम में आ सकते है। यहां के पास श्रीनगर हवाई अड्डा है।

इसे भी पढ़िए :  सरकार सोचे, क्यों बढ़ रही है नौकरशाहों में आत्महत्या की प्रवृति

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × one =