व्यापारियो की समस्याओ के समाधान के लिए महेश शर्मा ने राष्ट्रीय स्तर पर गठित किया अखिल भारतीय व्यापारी संघ

32
loading...

व्यापारी हितों में जीएसटी और व्यापारियों की समस्याएं हो कम व्यापार में तभी आयेगा दम

नई दिल्ली/मेरठ। देशभर में व्यापारियो के अनेकों संगठन सक्रिय होने के बावजूद इनके समक्ष आने वाले परेशानी और कठिनाइयां समाप्त होने की बजाय बढ़ती ही जा रही है। इसके पीछे क्या कारण है और उसके लिए कौन जिम्मदार है यह तो सोचने का विषय है जिस पर विस्तार से चर्चा होने की आवश्यकता है।
ऐसी सोच और चर्चाओं के चलते एक नये व्यापार संघ का उदय अखिल भारतीय व्यापारी संघ का उदय हो गया है। इस संदर्भ में श्री महेश शर्मा से तो कोई सम्पर्क नही हो पाया मगर इस व्यापार संघ से जुड़ने वाले उनके निकट सूत्रों का जो कहना है उसके अनुसार देश के कई राज्यों में राष्ट्रीय स्तर पर गठित किये जाने वाले व्यापारिक संगठन के लिए प्रदेश व देश स्तर पर पदाधिकारियों के नाम तय करने हेतु पिछले एक माह से अभियान चल रहा है और काफी प्रदेशों में प्रतिनिधि बनाये जाने वाले व्यक्तियों का चयन भी तेजी से किया जा रहा है।
बताया जाता है की निकट भविष्य में व्यापार संघ की व्यापारी हितों में जीएसटी और व्यापारियों की समस्याएं हो कम व्यापार में तभी आयेगा दम। नारे के साथ श्री महेश शर्मा के नेतृत्व में एक धमाकेदार एंट्री होगी। मौखिक सूत्रों का यह भी कहना है की संगठन के नाम की घोषणा के साथ ही हर प्रदेश में कम से कम पांच प्रमुख व्यापारी संगठन से जोड़कर एक को राष्ट्रीय और बाकी को प्रदेश पदाधिकारी घोषित कर उन्हे अपने प्रदेश के जिलों और महानगरों व कसबों तक कमेटी गठित करने के साथ ही प्रदेश कमेटी का गठन करने को कहा जायेगा। इन सूत्रों का कहना था की पहले चरण में कस्बों से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक 11 व्यापारियो की कमेटियां गठित की जायेगी जिनका बाद में विस्तार किया जा सकता है। श्री महेश शर्मा के एक निकट सूत्र ने बताया की व्यापारी संस्था केन्द्र व प्रदेश की सरकारों तथा व्यापारियो से सबंध विभागों के हर स्तर के अफसरों से मिलकर और आवश्यकता पड़ी तो गांधीवादी शांतिपूर्ण आंदोलन के माध्यम से समस्याओं का समाधान कराया जायेगा।
सूत्रो का कहना है की नये बनने वाले अखिल भारतीय व्यापारी संघ की वेबसाईट तैयार हो रही है जिस पर सदस्यता फार्म संगठन के उदेश्यय तथा बैंक एकाउंट नम्बर डालकर देशभर में व्यापारियो को आॅनलाईन सदस्य बनाने का अभियान शुरू किया जायेगा।
सदस्य बनने के इच्छुक व्यापारी को अपना आधार या पैन कार्ड नम्बर व्यापार से सबंध लांइसेंस अथवा अन्य जानकारियां अवश्य देनी होगी।

इसे भी पढ़िए :  वाकई नागरिक मित्र लगी कोलकाता पुलिस कहीं चालान और जाम दिखाई नहीं दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + 4 =