IND vs NZ Semifinal Match: भारत को मिली पहली सफलता, गुप्टिल को बुमराह ने किया OUT

15
loading...

टॉस जीतने के बाद न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल और हेनरी निकोल्स ने पारी का आगाज किया। वहीं भुवनेश्वर कुमार ने भारतीय गेंदबाजी की शुरुआत की। भारत को चौथे ओवर में पहली सफलता मिली जब बुमराह ने गुप्टिल को 1 रन पर आउट किया।

विश्व कप की ‘रन मशीन’ रोहित शर्मा की अगुवाई में शानदार प्रदर्शन कर रहा भारतीय शीर्षक्रम विश्व कप सेमीफाइनल में जब उतरेगा तो उसके सामने न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों की चुनौती आसान नहीं होगी। इस टूर्नामेंट में ‘प्लान बी’ के अभाव में भी विराट कोहली की टीम अपनी कमियों को ढांकने में कामयाब रही है लेकिन अब आखिरी दो तिलिस्म पर कोई भी कोताही बरतना भारी पड़ सकता है। फिलहाल न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है। भारत ने एक बदलाव करते हुए कुलदीप यादव की जगह युजवेंद्र चहल को टीम में मौका दिया है जबकि न्यूजीलैंड ने टिम साउथी की जगह लाकी फर्ग्युसन को टीम में शामिल किया है।

सेमीफाइनल में रोहित बनाम लोकी फर्ग्युसन, के एल राहुल बनाम ट्रेंट बोल्ट और कोहली का मैट हेनरी से मुकाबला देखना रोचक होगा। दूसरी ओर ‘संकटमोचक’ केन विलियमसन की स्पिनरों के खिलाफ तकनीक या रोस टेलर का जसप्रीत बुमराह को खेलने का तरीका भी देखना दिलचस्प रहेगा। यह भी देखना होगा कि महेंद्र सिंह धोनी मैच में मिशेल सेंटनेर की बायें हाथ की धीमी गेंदबाजी का कैसे सामना करते हैं क्योंकि दोनों का सामना चेन्नई सुपर किंग्स में कई बार हो चुका है।

न्यूजीलैंड की टीम आखिरी तीन लीग मैच हार गई लेकिन शुरूआती मैचों के अच्छे प्रदर्शन से मिले अंकों के दम पर पाकिस्तान को पछाड़कर अंतिम चार में पहुंची। भारत के लिये रोहित (647), राहुल (360) और कोहली (442) मिलकर 1347 रन बना चुके हैं। वहीं न्यूजीलैंड के लिये फर्ग्युसन (17 विकेट), बोल्ट (15) और मैट हेनरी (10) मिलकर 42 विकेट ले चुके हैं । जिम्मी नीशाम ने 11 और कोलिन डे ग्रांडहोमे ने पांच विकेट लिये हैं। भारत के लिये चिंताजनक बात यह है कि शीर्षक्रम के बेहद कामयाब रहने से मध्यक्रम का ‘टेस्ट’ नहीं हो सका । ऐसे में बादलों से घिरे मैनचेस्टर के मैदान पर बोल्ट की गेंदबाजी घातक साबित हो सकती है। इसके अलावा हार्दिक पंड्या को छोड़कर मध्यक्रम का कोई बल्लेबाज अच्छा नहीं खेल सका है । महेंद्र सिंह धोनी ने 90 प्लस के स्ट्राइक रेट से 293 रन बनाये लेकिन अपने चिर परिचित अंदाज में नहीं दिखे। न्यूजीलैंड की कमजोर कड़ी उसका शीर्षक्रम रहा है । विलियमसन (481) को छोड़कर कोई बल्लेबाज नहीं चल सका।

इसे भी पढ़िए :  विनेश फोगाट का दिखा जलवा, बनीं 2020 ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली पहली महिला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 1 =