नेपाल में उत्तर कोरिया के बढ़ते दखल से परेशान हुआ अमेरिका….

10
loading...

काठमांडो । नेपाल में उत्तर कोरियाई लोगों की बढ़ती गतिविधियों के बीच प्योंगयांग के लिए विशेष अमेरिकी दूत मार्क लैम्बर्ट ने हिमालयी देश की सरकार और राजनेताओं से देश में उत्तर कोरियाई लोगों को ज्यादा तवज्जो नहीं देने के लिए कहा है।

‘‘द हिमालयन टाइम्स’ के मुताबिक, नेपाल की तीन दिवसीय यात्रा पर आए लैम्बर्ट ने सांसदों, वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और सत्तारूढ़ नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (एनसीपी) के सह-अध्यक्ष पुष्प कमल दहल से शुक्रवार को यहां यह अपील की। उन्होंने नेपाल में उत्तर कोरियाई लोगों की बढ़ती व्यावसायिक गतिविधियों के बारे में चिंता व्यक्तकी।

इसे भी पढ़िए :  अयोध्या फैसला: पुनर्विचार याचिका दाखिल हुई तो सुप्रीम कोर्ट की बेंच में शामिल होगा एक नया जज

लैम्बर्ट से मुलाकात करने वाले एक सांसद ने बताया, उन्होंने यह भी आशंका व्यक्तकी है कि उत्तर कोरियाई लोग साइबर अपराधों के लिए नेपाल का इस्तेमाल अड्डे के रूप में कर रहे होंगे।इन बैठकों के दौरान लैम्बर्ट का संदेश स्पष्ट था कि संयुक्तराष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लगा रखे हैं और एक सदस्य देश के रूप में नेपाल को इस फैसले का सम्मान करना चाहिए।

इसे भी पढ़िए :  'अगर बाबर ने मंदिर गिराकर मस्जिद बनाई थी तो वह इस्लाम में मस्जिद नहीं'-अरशद मदनी

उत्तर कोरिया द्वारा संयुक्त राष्ट्र के चार्टर का उल्लंघन करते हुए परमाणु हथियार विकसित करना शुरू करने के बाद संयुक्त राष्ट्र ने उत्तर कोरिया पर कई प्रतिबंध लगाए हैं। ये प्रतिबंध, दूसरों के बीच, संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों को उत्तर कोरिया के नागरिकों की मेजबानी करने से रोकते हैं।

इसे भी पढ़िए :  संसद के शीतकालीन सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक में शिवसेना सांसद भी पहुंचे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + twenty =