SCO सम्मेलन में बोले PM- आतंकवाद का पोषण कर रहे देशों को ठहराया जाना चाहिए जिम्मेदार

7
loading...

नई दिल्ली : Prime Minister Narendra Modi ने शुक्रवार को किर्गिस्तान के बिश्केक में आयोजित शंघाई कोऑपरेशन काउंसिल (SCO) की बैठक के दूसरे दिन आतंकवाद का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को समर्थन, वित्त प्रदान करने वाले देशों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है। भारत आतंकवाद से निपटने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आह्वान करता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वर्तमान समय में लोगों के बीच संपर्क बेहद जरूरी है। आतंकवाद इस समय बड़ी समस्या बन चुकी है। आतंकवाद से निपटने के लिए एससीओ देशों को साथ आना होगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आधुनिक समय में बेहतर Connectivity बहुत जरूरी है। वर्तमान समय में लोगों के बीच संपर्क बेहद जरूरी है।

इसे भी पढ़िए :  नेपाल में उत्तर कोरिया के बढ़ते दखल से परेशान हुआ अमेरिका....

इससे पहले Prime Minister Narendra Modi ने एससीओ परिषद् के राष्ट्र प्रमुखों की बैठक से पहले किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव से शुक्रवार को मुलाकात की। जीनबेकोव एससीओ शिखर सम्मेलन 2019 के मौजूदा अध्यक्ष भी हैं। प्रधानमंत्री मोदी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) परिषद् के राष्ट्र प्रमुखों की बैठक से पहले ‘अला अरचा Presidential Palace पहुंचे जहां किर्गिस्तान के राष्ट्रपति ने उनका स्वागत किया।

इसे भी पढ़िए :  संसद सत्र से पहले Pm modi ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, कई मुद्दों पर हुई चर्चा

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह एससीओ परिषद् के राष्ट्र प्रमुखों की बैठक से पहले अला अरचा Presidency palace पहुंचे, जहां किर्गिज गणराज्य के राष्ट्रपति एवं एससीओ शिखर सम्मेलन 2019 के मौजूदा अध्यक्ष सूरोनबे जीनबेकोव ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया।’

भाजपा को हाल में लोकसभा चुनाव में मिली जीत के बाद मोदी के पुन: प्रधानमंत्री बनने के पश्चात् दोनों नेताओं के बीच यह पहली वार्ता है। मोदी दो दिवसीय एससीओ सम्मेलन के लिए बृहस्पतिवार को बिश्केक पहुंचे थे। एससीओ चीन के नेतृत्व वाला आठ सदस्यीय आर्थिक एवं सुरक्षा समूह है जिसमें भारत और पाकिस्तान को 2017 में शामिल किया गया था.

इसे भी पढ़िए :  ICC WC 2019 INDvPAK: जानें दोनों टीमों का संभावित Playing XI, picth और मौसम का मिजाज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 + seventeen =