पश्चिम बंगाल में नहीं थम रही राजनीतिक हिंसा, बम हमले में 3 TMC कार्यकर्ताओं की मौत

5
loading...

कोलकाता (सोमा) : पश्चिम बंगाल में जगह-जगह हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है. पश्चिम बंगाल में शुक्रवार को मुर्शिदाबाद के डोमकल में के कुचियामोड़ा ग्राम में दो पक्षों में एक बार फिर हिंसा देखने को मिली. डोमकल में देर रात बमबारी और गोलियां चलने के कारण तीन लोगों की मौत हो गई है. शुक्रवार की रात मुर्शिदाबाद में तृणमूल कांग्रेस (TMC) के दो कार्यकर्ताओं की एक बम विस्फोट में मौत हो गई. TMC कार्यकर्ता खैरुद्दीन शेख और सोहेल राणा के घर पर हमलावरों ने बम से हमला किया. इस हमले में दोनों की मौत हो गई.

इसे भी पढ़िए :  लखनऊ के लिए बड़ी उपलब्धि: अगले साल शहर में लगेगा हथियारों का सबसे बड़ा मेला

घर में सो रहे थे लोग और हो गया धमाका
न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत के दौरान खैरुद्दीन के बेटे मिलान शेख ने बताया कि हम लोग सो रहे थे कि अचानक घर में विस्फोट हुआ. जिसमें मेरे पिता की मौत हो गई है. उन्होंने आगे बातचीत करते हुए कहा कि कुछ दिन पहले ही मेरे चाचा को भी मार दिया गया था. इसके पीछे कांग्रेस का हाथ है.

इसे भी पढ़िए :  यह है आज के ट्रेडिंग हैंडबैग्स, स्टाइलिश दिखने के लिए इन्हें अपनाएं

लगातार हो रही है हिंसा
उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव के बाद बंगाल में राजनीतिक हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रही.

यहां अबतक लगभग 10 राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है. अब तक जितने भी मामले सामने आए हैं उनमें बीजेपी और तृणमूल के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प की खबरें ही शामिल हैं. यह पहला मामला है जब तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच हिंसा की खबरें आई हैं.

इसे भी पढ़िए :  समीरा रेड्डी ने सांझा किया अपना सिजेरियन के टांकों का दर्द

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + 4 =