बड़ी बहन को मंजूर नहीं दुती चंद का समलैंगिक रिश्ता, दी जेल भेजने की धमकी

21
loading...

नई दिल्ली: युवा रिश्तेदार के साथ समलैंगिक रिश्ते का खुलासा करने वाली भारत की सबसे तेज धाविका दुती चंद (Dutee Chand) के सामने अब अपने परिवार द्वारा स्वीकार किए जाने की कड़ी चुनौती है. एशियाई खेल 2018 में दो सिल्वर मेडल जीतने वाली 23 साल की दुती दुनिया की उन कुछ खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्होंने सार्वजनिक रूप से समलैंगिक रिश्ता स्वीकार किया है.

हैदराबाद में Training कर रही दुती ने कहा, ‘‘मेरे गांव की 19 साल की महिला से पिछले पांच साल से मेरा रिश्ता है. वह भुवनेश्वर के कालेज में B.A second year की छात्रा है. वह मेरी रिश्तेदार है और मैं जब भी घर आती हूं तो उसके साथ समय बिताती हूं. वह मेरे लिए जीवन साथी की तरह हैं और भविष्य में हैं उसके साथ घर बसाना चाहती हूं.’’

Athlete dhoti chand ने किया बड़ा खुलासा, ‘हां, मेरे समलैंगिक संबंध हैं’ फैंस ने दिए ऐसे रिएक्शन
सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल एतिहासिक फैसला सुनाते हुए आपसी सहमति से वयस्कों के बीच समलैंगिक रिश्तों को गैर आपराधिक करार दिया था, लेकिन ऐसे लोगों के बीच विवाह अब भी भारत में वैध नहीं है.

इसे भी पढ़िए :  PCS अफसर ऋतु सुहास बनीं Mrs India 2019, बोलीं- 'मेरे लिए ये सफर आसान नहीं था'

100 मीटर दौड़ में 11.24 सेकंड के समय के साथ National record धारक दुती ने कहा कि उनके माता पिता ने अब तक इस रिश्ते पर कोई आपत्ति नहीं जताई है, लेकिन उनकी सबसे बड़ी बहन ने उन्हें परिवार से बाहर करने के अलावा जेल भेजने की भी धमकी दी है.

बड़ी बहन का दबदबा
दुती ने कहा, ‘‘मेरे परिवार में मेरी बड़ी बहन का काफी दबदबा है. उसने मेरे बड़े भाई को घर से बाहर कर दिया, क्योंकि उसे उसकी पत्नी पसंद नहीं थी. उसने मुझे धमकी दी है कि मेरे साथ भी ऐसा ही होगा. लेकिन मैं भी वयस्क हूं जिसकी निजी स्वतंत्रता है. इसलिए मैंने इस रिश्ते को आगे बढ़ाने और सार्वजनिक करने का फैसला किया.’’

इसे भी पढ़िए :  करवटें बदलते हुए काटी चिन्मयानंद ने जेल में पहली रात, नहीं मिली कोई विशेष सुविधा

मुझे जेल भिजवा देगी
दुती ने कहा, ‘‘मेरी बड़ी बहन को लगता है कि मेरी जोड़ीदार की रुचि मेरी संपत्ति में है. उसने मुझे कहा कि इस रिश्ते के लिए वह मुझे जेल भिजवा देगी.’’

पार्टनर शादी के आजाद
दुती ने कहा कि अगर उनकी जोड़ीदार चाहे तो भविष्य में किसी के भी साथ विवाह करने के लिए स्वतंत्र है. साथ ही कहा कि वह अगले महीने World university खेलों में हिस्सा लेंगी और उन्हें इस साल होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई करने की उम्मीद है. साथ ही उनका लक्ष्य अगले साल होने वाले Olympic के लिए Qualify करने का है.

इसे भी पढ़िए :  EU में भी पाकिस्तान को फटकार : भारत में चांद से नहीं आते आतंकी, पड़ोसी देश में है पनाहगाह

पार्टनर का नाम नहीं बताया
इस धाविका ने अपनी पार्टनर का नाम नहीं बताया लेकिन कहा कि इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने उन्हें सार्वजनिक रूप से सामने आने का हौसला दिया. दुती ने कहा कि इस रिश्ते को सार्वजनिक करने का एक और कारण यह भी था कि वह नहीं चाहती थी कि धाविका पिंकी प्रमाणिक के साथ जो भी हुआ वह उनके साथ भी हो. पिंकी पर उनकी ‘लिव इन पार्टनर’ ने बलात्कार का आरोप लगाया था. आपको बता दें कि पिंकी 2006 एशियाई खेलों की चार गुणा 400 मीटर रिले में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारतीय महिला टीम की सदस्य थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 4 =