VIDEO: कांग्रेस नेता उर्मिला मातोंडकर का रोड शो, लगने लगे मोदी-मोदी के नारे, भिड़े समर्थक

19
loading...

मुंबईः Lok Sabha elections 2019 के प्रचार में जुटीं कांग्रेस नेता उर्मिला मातोंडकर की रैली के दौरान PM मोदी के समर्थकों ने मोदी मोदी के नारे लगाए. Mumbai North Seat से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरीं उर्मिला जिस वक्त अपने समर्थकों के साथ बोरीवली इलाके में प्रचार के पहुंची, तभी अचानक कुछ युवक वहां पर मोदी मोदी के नारे लगाने लगे. इतने में ही कांग्रेस समर्थकों की भीड़ इन युवाओं की तरफ बढ़ी और चौकीदार चोर है के नारे लगाने लगे. कांग्रेस समर्थकों की भीड़ देख मोदी मोदी के नारे लगाने वाले युवक तितर-बितर हो गए. इतने में ही एक कांग्रेस समर्थक ने एक युवक को पकड़ लिया और उसके साथ हाथापाई की.

Video में आप खुद भी देख सकते हैं किस प्रकार दोनों दलों के समर्थक आपस में भिड़ गए. उर्मिला ने बाद में इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराई.

Mumbai में Congress को मोदी लहर के समाप्त होने और मनसे के समर्थन का आसरा
लोकसभा चुनाव के मद्देनजर मुम्बई में प्रचार अभियान ने तेजी पकड़ ली है…जहां कांग्रेस अपनी पकड़ मजबूत करने की कोशिश में जुटी है. शिवसेना और बीजेपी के तल्ख रिश्तों के बावजूद चुनाव से ठीक पहले एकसाथ आ जाने से कांग्रेस की मुश्किलें जहां एक ओर बढ़ गईं हैं तो वहीं दूसरी ओर मनसे के प्रमुख राज ठाकरे का कांग्रेस को समर्थन से पार्टी को राहत मिली है.

इसे भी पढ़िए :  शीला दीक्षि‍त का निधन, PM मोदी ने जताया दुख, कहा-दिल्‍ली के विकास में उनका योगदान यादगार

Mumbai में 6 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस पांच पर और उसका सहयोगी दल NCP एक सीट पर मैदान में हैं. इस बार कांग्रेस और BJP वर्धा, नागपुर, गढ़चिरौली-चिमूर, चंद्रपुर सीटों पर एक-दूसरे के खिलाफ खड़े हैं जबकि रामटेक और यवतमाल-वाशिम में कांग्रेस का मुकाबला शिवसेना से होगा. भंडारा-गोंदिया में NCP का मुकाबला बीजेपी से होगा.

इसे भी पढ़िए :  वंदे मातरम को मिले राष्ट्रगान का दर्जा, इसके लिए दिल्ली हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर

नागपुर, चंद्रपुर और यवतमाल-वाशिम निर्वाचन क्षेत्रों से क्रमश: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, हंसराज अहीर और वरिष्ठ कांग्रेस नेता माणिकराव ठाकरे चुनाव लड़ते रहे हैं. साल 2014 के चुनाव में कांग्रेस 2 से 3 लाख मतों के अंतर से 6 Seats पर हार गई थी. एनसीपी के प्रफुल पटेल को करीब 1.4 लाख मतों के अंतर से भंडारा-गोंदिया सीट पर हार का सामना करना पड़ा था.

इसे भी पढ़िए :  मिशेल ओबामा ने ट्रंप पर साधा निशाना, कहा - ना मेरा ना आपका, हमारा है अमेरिका

BJP के Ticket पर जीतने वाले और पटेल को हराने वाले नाना पटोले साल 2017 में कांग्रेस में शामिल हुए. इस सीट पर 2018 में हुए उपचुनाव में एनसीपी के मधुकर कुकड़े ने जीत दर्ज की थी.कांग्रेस ने गढ़चिरौली-चिमूर से नामदेव उसेंडी को फिर से उम्मीदवार बनाया है. उसेंडी 2014 में विधायक थे जब वे गढ़चिरौली में कांग्रेस की तरफ से खड़े हुए लेकिन उन्हें पूर्व बीजेपी विधायक अशोक नेटे ने हरा दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × one =