Boxing: साक्षी और बासुमतारी कोलोन वर्ल्ड कप के फाइनल में, पिंकी-परवीन को ब्रॉन्ज मिलेगा

12
loading...

नई दिल्ली: India की साक्षी (57 Kg) और पी. बासुमतारी (64 Kg) ने शुक्रवार को जर्मनी के कोलोन में जारी Boxing World Cup-2019 के फाइनल में जगह बना ली है. भारत को हालांकि पिंकी रानी (51 किग्रा) और परवीन (60 किग्रा) की हार से निराशा हुई. ये दोनों बॉक्सर कांस्य पदक लेकर स्वदेश लौटेंगी. इन दोनों को सेमीफाइनल में हार मिली.

बेहद प्रतिभाशाली मानी जा रहीं 18 साल की साक्षी ने Thailand की तिंताबथाई प्रीदाकामोन के खिलाफ 5-0 की जीत के साथ अपनी प्रतिभा की झलक दिखाई. पूर्व जूनियर वर्ल्ड चैम्पियन का फाइनल में 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स के Silver Medal Winner आयरलैंड की माइकेला वाल्श से सामना होगा.

इसे भी पढ़िए :  भारतीय मूल के Stand-up comedians की हुई मंच पर मौत, लोगों को लगी Acting

दूसरी ओर, स्ट्रांजा बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली पिलाओ बासुमतारी ने डेनमार्क की अइयाजा डिटे फ्रास्तोल्म को स्प्लि डिसिजन के आधार पर हराया. फाइनल में इस 26 साल की खिलाड़ी का सामना चीन ती चेनग्यू यांग से होगा.

भारत के पास अपने खाते में कुछ और स्वर्ण पदक जोड़ने का मौका है क्योंकि स्ट्रांजा बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक विजेता मैसराम को 54 किग्रा कैटेगरी में सीधे फाइनल में रखा गया है. कारण, इस कैटेगरी में काफी कम मुक्केबाज थीं. मैसराम फाइनल में थाईलैंड की माचाई बुनयानुत से भिड़ेंगी. यह इस टूर्नामेंट में उनका पहला मुकाबला होगा.

इसे भी पढ़िए :  सलमान के बाद एक्स बॉयफ्रेंड्स से दोस्ती रखने पर बोलीं कटरीना कैफ...

51 किग्रा वर्ग में पिंकी रानी का शानदार सफर आयरलैंड की 2018 राष्ट्रमंडल खेल रजत पदक विजेता कार्ली मैक्नाउल के हाथों रुक गया. पिंकी 0-5 से हार गईं. इसी तरह परवीन को इंग्लैंड की मैगी मुर्ने ने हराया. भारत ने इस टूर्नामेंट में सात सदस्यीय दल भेजा है. टूर्नामेंट में 21 देशों की बॉक्सर 17 भार वर्गो में हिस्सा ले रहीं हैं.

इसे भी पढ़िए :  गेस्‍ट हाउस में भी धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी, बोलीं- 'मैं सोनभद्र जरूर जाऊंगी और पीड़ितों से मिलूंगी'

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen − 8 =