भारत पहुंचा ऐसी बीमारी (फंगस), जिसका नहीं है कोई इलाज, 90 दिनों में मौत तय

2612
loading...

International newspaper New York Times Report के मुताबिक, इस फंगस का नाम कैडिडा ऑरिस है. यह इंसान की मौत के बाद खत्म नहीं होता है, बल्कि एक शरीर से दूसरे शरीर में तेजी से फैलता है और लोगों को अपनी चपेट में लेता है.

Report में कहा गया है कि ‘कैंडिडा ऑरिस’ का पहला मरीज ब्रुकलिन में मिला था. रिपोर्ट के मुताबिक, Mount Sinai Hospital for Abdominal Surgery के दौरान एक व्यक्ति के blood test से यह बात सामने आई थी कि वह एक Fungus से पीड़ित है. जब डॉक्टरों ने इसकी तह तक जाना चाहा तो पता चला कि यह कैंडिडा ऑरिस है और एक जानलेवा फंगस है और मौत के बाद भी इंसान के शरीर से खत्म नहीं होता है. बुजुर्ग के Test के बाद डॉक्टरों ने उसे Intensive care unit में Shift किया था. इसके बाद उन्हें कई और ऐसे ही केस सामने आए.

इसे भी पढ़िए :  VIDEO: पहला विकेट लेने पर IPL के इस खिलाड़ी ने राजस्थानी अंदाज में किया सेलिब्रेट

Report के मुताबिक, यूएस और यूरोप के बाद अब यह फंगस भारत, पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रिका में भी दिखाई देने लगा है.

अब तक इस फंगस से जुड़े जो भी मामले सामने आए हैं, उनमें 90 दिन के अंदर मरीज की मौत हो गई है. डॉक्टरों का कहना है कि अस्पताल में मौजूद लोगों, उपकरणों समेत अन्य चीजों के आयात-निर्यात से भी यह एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलता जा रहा है.

इसे भी पढ़िए :  दिल्ली में भाजपा के चार सांसदों को दोबारा टिकट

डॉक्टरों का मानना है कि यह Fungus उन्हीं लोगों को अपना शिकार बनाता है, जिनका Immune System कमजोर होता है. हालांकि इस पर कोई भी स्पष्ट राय नहीं है.

डॉ. स्कॉट लॉरिन का कहना है कि Fungus Candida Auris इतना खतरनाक है कि इस पर Antifungal meditation का भी असर नहीं होता. एक समस्या यह भी है कि लोगों को इस फंगस के बारे में कम जानकारी है क्योंकि इसे गोपनीय बनाकर रखा गया है. इस पर अब तक दवाएं नहीं बन पाई हैं.

इसे भी पढ़िए :  चुनाव प्रचार में फिल्मी अभिनेताओं की घटती मांग, नेताओं के लिए है शुभ संकेत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 + 14 =