रेनॉ ट्राइबर में मिलेगी Segment की पहली अलग होने वाली तीसरी सीट

7
loading...

नई दिल्ली। रेनॉ जल्द ही बिल्कुल नई 7-सीटर कार launch करने वाली है जिसमें खूब सारे केबिन स्पेस देने के साथ इसे अल्ट्रा-मॉड्युलर एमपीवी बनाया गया है. रेनॉ की ये MPV RBC Codenamed के साथ पेश की थी जिसे बाज़ार में रेनॉ ट्राइबर के नाम से जाना जाएगा. रेनॉ ट्राइबर को देखकर आपको ऐसा लगेगा कि यह कार MPV है, Crossover है और Premium hatchback भी है. जहां बाज़ार में बेची जा रही ज़्यादातर SUV Typical 7-seater तमगे के साथ आती है और इन्हें डिज़ाइन भी उसी हिसाब से किया जाता है, रेनॉ ट्राइबर का प्रारूप इतना लचीला है कि यह कार दो तरीके से काम कम करती है. कहने का मतलब ये है कि ट्राइबर में Segment की पहली अलग हो जाने वाली तीसरी पंक्ति की सीट दी गई है.

इसे भी पढ़िए :  कांग्रेस पूनम सिन्हा को दे लखनऊ में समर्थन

रेनॉ ट्राइबर में खूब सारे केबिन स्पेस देने के साथ इसे Ultra-modular बनाया गया है.

2019 रेनॉ ट्राइबर की तीसरी कतार वाली सीट को आसानी से अलग किया जा सकता है और यह संभवतः Manual Process होगा लेकिन चालक इसे आसानी से अलग कर सकता है. मॉड्युलर बताने के साथ कंपनी ने इसे मॉड्युलर बनाया भी है क्योंकि जहां आप यात्री ज़्यादा होने पर 7-सीट का इस्तेमाल कर सकते हैं, वहीं ज़रूरत के हिसाब से इसकी पिछली सीट निकालकर उपलब्ध जगह का इस्तेमाल लगेज रखने में लिया जा सकता है. कार की पिछली Seat पर बैठने के लिए बीच की सीट को फोल्ड करना होगा और इसकी छत की Heights ज़्यादा होने से यह काम आसान हो जाता है. भारत में रेनॉ ट्राइबर का मुकाबला मारुति सुज़ुकी विटारा ब्रेज़ा के साथ होंडा डब्ल्यूआर-वी जैसी कारों से होगा.

इसे भी पढ़िए :  PHOTO: दिशा पटानी जैसी ही खूबसूरत हैं उनकी फौजी बहन, share की सेना की वर्दी में PHOTOS

MPV RBC codenamed के साथ पेश की थी जिसे बाज़ार में Renault Triber के नाम से जाना जाएगा

रेनॉ ने कार के Platform में भी हल्के बदलाव किए हैं जिससे यह कार समान प्लैटफॉर्म बनी क्विड और डैट्सन रेडीगो से बहुत अलग है. टकराव और सुरक्षा के लिहाज से रेनॉ ट्राइबर इन दोनों कारों से बहुत बेहतर है और उच्च गुणवत्ता वाली है. रेनॉ ट्राइबर में संभवतः ABS और Dual-airbags सामान्य रूप से दिए जाएंगे. हमें बताया गया है कि ट्राइबर को कई सारे Variants में लॉन्च किया जाएगा, ऐसे में कार को आकर्षक कीमत देने के साथ बेहतरीन फीचर्स से लैस किया जाएगा जिनमें Touchscreen Connectivity, Sunroof and Climat Control शामिल हैं. रेनॉ ट्राइबर के बारे में फिलहाल ये सारी बातें अनुमनित ही हैं और इसकी पुष्टि 2019 में त्योहारों के सीज़न में होगी जब कंपनी इसे भारत में लॉन्च करेगी.

इसे भी पढ़िए :  करणी सेना प्रमुख रूबी सिंह ऐसे बना सूदखोर, 5 लाख के वसूलता था 1 करोड़

Renault India Triber को भारत में बनाएगी और यह इसके उत्पादन का मुख्य बाज़ार होगा, भारत में बनाई गई ट्राइबर को दुनिया के बाकी हिस्सों में निर्यात किया जाएगा ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है. Triber में लगा platform रेनॉ और निसान दोनों को सहायता करेगा कि Car Model में पहले से दिए जा रहे पुर्ज़ों को आगे कैसे इस्तेमाल किया जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 5 =