पीएम साहब आलिया भटट व धर्म गुरूओ के कहने से नही बढ़ता मतदान।

12
loading...

दुनिया के सबसे बड़ी लोकतन्त्रिक देशो में शामिल अपने देश भारत में मतदान प्रतिशत बढ़ाने और चुनाव रूपी महायज्ञ में ज्यादा से ज्यादा मतदाता बढ़चढ़ कर भाग ले इसके लिए वर्ष में एक दिन मतदाता दिवस तो मनाया ही जाता है मतदान के अधिकार के प्रति सबको जागरूक करने हेतु आये दिन कोइ ने कोई आयोजन व समारोह कही न कही होता ही रहता है।इस बार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा मतदान प्रतिशत बढाने और उसे सुपरहिट कथा बनाने के लिए आम नागरिको को प्रेरित करने हेतु पीएम नरेन्द्र मोदी जी द्वारा जागरूकता अभियान के तहत राजनीतिक दिग्गजो, धर्मगरूओ , फिल्म अभिनेता व अभिनेत्रियो को ट्विट कर उनसें वोटिंग दर बढवाने में सहयोग देने का आग्रह किया गया है।इस पर सपा मुखिया अखिलेश यादव ने अपने जवाबी ट्विट में तंज कसा की ‘‘वोट करो नया पीएम चुनो’’ मान्य प्रधानमंत्री जी के ट्विट पर अलग अलग क्षेत्रों में सक्रिय हस्तियों ने अपने अपने हिसाब से इस पर प्रतिक्रिया दी है। किसने क्या कहा-इस विषय पर न जाते हुए ,,मै बस इतना कहना चाहता हुँ की मतदान के प्रति नागरिको का रूझान हर चुनाव में बड़ रहा है।लेकिन मोदी जी यह किसी भी क्षेत्र के बड़े लोगो के कारण नही अपनी मर्जी से मतदाता ऐसा कर रहे हैं।
पीएम साहब यह बात सही है की कुछ लोग धर्मिक , कुछ लोग राजनीति और कुछ लोग समाजिक तथा कुछ फिल्मी क्षेत्र में बड़ा आधार रखतें है।लेकिन इतिहास गवाह है कि वोट ओरो की बात तो दूसरी है। मिया बीवी भी ने तो एक दूसरे के कहने सें किसी को अपना मत देते है।और न ही मत डालने ही जाते है। हाँ सामान्य रूप से मतदातओ में जागरूकता अपन वोट डालने ओर अपनी पसन्द का उम्मीदवार चुनने और सरकार बनाने का रूझान बढ़ा है ।लेकिन इसमें आलिया भट्ट, सलमान खान , रणबीर सिंह,अथवा किसी धर्म गुरू का कोई बहुत बड़ा योगदान नही कहा जा सकता क्योकि पूर्व में राजनेताओं के साथ नामचीन फिल्मी कलाकार और कुछ धर्म गुरू खुद तो चुनाव हारते ही रहे है।जिनके समर्थन में इनके द्वारा प्रचार किया जाता है वो भी पराजित होते रहतें है।पीएम साहब इनके मुकाबले तो आपके कहने से मतदान प्रतिशत काफी बढ़ जाता है और इसके उदाहरण के रूप में 2014 का लोकसभा और यूपी विधानसभा से पूर्वचुनाव को परिणाम देखा जा सकता है।

इसे भी पढ़िए :  शाहिद अखलाक अगर काग्रेस उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़तें है तो?

– रवि कुमार बिश्नोई
संस्थापक – ऑल इंडिया न्यूज पेपर्स एसोसिएशन आईना
राष्ट्रीय स्तर पर सक्रिय समाज सेवी संगठन आरकेबी फांउडेशन के संस्थापक
सम्पादक दैनिक केसर खुशबू टाईम्स
आनलाईन न्यूज चैनल ताजाखबर.काॅम, मेरठरिपोर्ट.काॅम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × five =