बजट 2019 : अंतरिम बजट में महिलाओं की सुरक्षा के लिए की 1330 करोड़ रुपये की व्यवस्था

9
loading...

नई दिल्ली : सरकार ने महिला सुरक्षा और Empowerment mission के लिए 1330 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। इस मद में मिशन के लिए 2018-19 के संशोधित अनुमान की अपेक्षा 174 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी की गई है।

Finance Minister Piyush Goyal ने वर्ष 2019-20 के लिए लोकसभा में पेश अंतरिम बजट में यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए शुरू की गई योजनाओं के तहत पिछले साढ़े चार साल के दौरान सरकार ने सोच में बदलाव लाने का काम किया है। अब सिर्फ महिलाओं के विकास की बात नहीं है, बल्कि महिलाओं के नेतृत्व में विकास की ओर जाने का लक्ष्य है।

इसे भी पढ़िए :  Pulwama Terror Attack : सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति में फैसला, पाकिस्तान से 'मोस्ट फेवर्ड नेशन' का दर्जा छीना गया

गोयल ने कहा कि सरकार ने उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ निःशुल्क LPG connection देने का लक्ष्य निर्धारित किया है। 6 करोड़ कनेक्शन दिए जा चुके हैं और शेष connection अगले वर्ष तक वितरित कर दिए जाएंगे।वित्त मंत्री ने कहा कि उज्ज्वला हमारी सरकार का एक सफल कार्यक्रम है जो एक जिम्मेदार और सहानुभूतिपूर्ण नेतृत्व के व्यवहारिक दृष्टिकोण को इंगित करता है।

इसे भी पढ़िए :  वंदे भारत एक्सप्रेस को PM ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया, 17 से आप भी सफर कर सकेंगे

गोयल ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की 70 प्रतिशत से अधिक लाभार्थी महिलाएं हैं, जिन्हें अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए रियायती दर पर और बिना प्रतिभूति के ऋण दिए जा रहे हैं।मातृत्व अवकाश को 26 सप्ताह करना तथा गर्भवती महिलाओं के लिए प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लाभों को रेखांकित करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि इन पहलों से महिलाओं को वित्तीय मदद मिली है और उनका सशक्तिकरण हुआ है।

इसे भी पढ़िए :  नोबेल शांति पुरस्कार के लिए 2019 मे इतने उम्मीदवारो का हुआ नामांकन

srchl

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 − two =