periods के समय शारीरिक संबंध बनाते समय लड़किया ध्यान रखें ये बात !

204
loading...

हर लड़की को महीने में तीन से चार दिन पीरियड्स की समस्या से जूझना पड़ता है। और यह एक प्रक्रिया है जो हर महिला को होती है। लड़कियों को हर महीने होने वाले मासिक धर्म में दर्द को सहना पड़ता है,फिर बच्चे को पैदा करने का दर्द। महिलाओ की जिंदगी उतार-चढ़ाव से भरी हुई है। अक्सर महिलाएं पीरियड्स में होने वाले दर्द को झेलती रहती है और ऊपर से शादी के बाद पीरियड्स के दौरान संबंध बनाना उनके लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नही है। आज हम इस विषय पर आपको कुछ अहम जानकारी देने वाले है।

पीरियड्स के समय पति-पत्नी बिना किसी झिझक के romance करते है। पीरियड्स के दिनों में संबंध बनाने में रहत मिलती है क्योंकि sex के बाद लड़कियों के एंडोरफिन्स रिलीज़ होने लगते है जो स्ट्रेस और दर्द दोनों को कम कर देते है। संभोग के बाद लड़कियों के शरीर में ऊतकों के परवाह तेज हो जाता है जिसकी वजह से लड़कियों को पीरियड्स जल्दी ख़तम होने की शिकायत रहती है।

एक सर्वे के मुताबिक यह पता लगा की 30 प्रतिशत लोग इन दिनों में संभोग का आनंद लो। बता दे की,महिलाओ में यौन संचारित संक्रमण,पीरियड्स के समय इसके संभावनाएं बढ़ जाती है। इसके पीछे का कारण यह है की पुरे महीने की अपेक्षया में इस महीने आपकी ग्रीवा दीवार ज्यादा खुली रहती है। इसलिए इन दिनों संबंध बनाने से पहले प्रोटेक्शन ले लेनी चाहिए।

अगर डॉक्टर्स की माने तो उनके नजरिए से भी पीरियड्स के दौरान संबंध बनाना कोई गलत नहीं,बस दोनों पार्टनर एक दूसरे से आरमदायक होने चाहिए। जब भी अपने पार्टनर के साथ संबंध बनाए तब इस बात का ध्यान रखे की बेडशीट हल्के रंग की ना हो। अगर चादर हलके रंग की है तो उसपर तोलिया या कोई गहरे रंग का कपड़ा बिछाले ताकि आपकी चादर गन्दी न हो। और इस आप पीरियड्स के दिनों में भी शारारिक संबंधो का आनंद ले सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − 9 =