कई बीमारियों से निजात दिलाने में मददगार है अंबिलिकल ब्लड बैंक

6
loading...

नई दिल्ली । विभिन्न अनुवांशिक एवं रक्त संबंधी बीमारियों में अंबिलिकल कॉर्ड (गर्भनाल) ब्लड ट्रांसप्लांट (यूसीबीटी) उपचार के एक प्रमुख विकल्प के तौर पर उभरा है, और अब भारत में भी धीरे-धीरे कॉर्ड ब्लड बैंक पूल बैंकिंग का अवधारणा बढ रही है। डॉक्टरों का कहना है कि 95 प्रतिशत रक्त संबंधी विकारों को रक्तदाता से मिले अंबिलिकल कॉर्ड ब्लड (यूसीबी) यानी गर्भनाल में जमा रक्त से दूर किया जा सकता है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए देश में पहले ‘‘फैमिली अंबिलिकल कॉर्ड ब्लड पूल बैंकिंग’ अवधारणा को शुरू किया गया है।सरकारी लाइसेंस प्राप्त कॉर्ड ब्लड बैंक ‘‘सेलुजेन’ की शाखा ‘‘माई कॉर्ड’ इस बात की वकालत करती है कि प्रत्येक यूसीबी ईकाई को प्राइवेट ब्लड बैंक के तौर पर विकसित किया जाए और वहां रक्त को संरक्षित रखा जाए, ताकि सबसे बेहतर मिलान वाले कॉर्ड ब्लड यूनिट तक मरीजों की आसानी से पहुंच हो सके।

इसे भी पढ़िए :  सिनेमा, संग्रहालय जाने से बुजुर्गों में अवसाद का जोखिम हो सकता है कम

प्राइवेट बैंक में रक्त खुद के इस्तेमाल के लिये किया जा सकता है लेकिन पब्लिक बैंक में यह दूसरों के भी इस्तेमाल में आ सकता है। सेलुजेन के निदेशक ललित जायसवाल ने कहा कि ‘‘फैमिली कॉर्ड ब्लड पूल बैंक’ के विचार के पीछे पब्लिक बैंकों में कॉर्ड ब्लड यूनिट की अनुपलब्धता है। हालांकि सरकारी निकाय नियमित आधार पर अंबिलिकल कॉर्ड ब्लड बैंकिंग को लेकर अपनी सिफारिशें देती रहती हैं।

इसे भी पढ़िए :  पपीता ही नहीं, उसके पत्ते भी सेहत के लिए होते हैं लाभकारी

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के 2007 और 2012 के दिशानिर्देश के अनुसार, खुद के लिये संरक्षित अंबिलिकिल कॉर्ड ब्लड का इस्तेमाल ना के बराबर है। भविष्य में खुद के इस्तेमाल के लिये कॉर्ड ब्लड के संरक्षण को लेकर अब तक कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है और यह प्रवृत्ति जातीय एवं सामाजिक चिंताओं को उजागर करता हैं। जायसवाल ने कहा कि पश्चिमी देशों की तुलना में भारत में यूसीबी प्रतिरोपण की संख्या बेहद कम है। यह सिर्फ खर्चीला होने और सार्वजिक ब्लड बैंकों में पर्याप्त संख्या में अनुकूल यूसीबी यूनिटों की अनुपलब्धता के कारण है।

इसे भी पढ़िए :  GYM में एक्सरसाइज करते समय न करें यह गलतियां, पड़ जाएंगे लेने के देने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four + 14 =