दिवाली पर NCR इलाके में सुप्रीम कोर्ट के आदेश की उड़ी धज्जियां, विजिबिलिटी 3 मीटर से भी कम

27
loading...

नई दिल्ली, 8 नवम्बर। Supreme court के सख्त आदेश के बाद दिवाली की रात भले ही Delhi-NCR में कम पटाखे जले, लेकिन गुरुवार सुबह हवा की गुणवत्ता खतरनाक स्तर पर ही पाया गया.Delhi-NCR के आसमान में भयंकर धुंध छाए हुए हैं. इस वजह से सड़कों पर विजिबिलिटी भी काफी कम है. आलम यह है कि सुबह के नौ बजे अच्छी खासी धूप निकलने के बाद भी विजिबिलिटी का आलम बेहद खराब है. सड़कों पर 15-20 मिनट सांस लेने पर ही दम घूटने लग रहा है.

राष्ट्रीय राजधानी के कई इलाके में लोगों ने रात 8 से 10 बजे के बीच पटाखा फोड़ने के लिये Supreme court की ओर से तय की गई समय-सीमा का उल्लंघन किया. दिल्ली में बुधवार रात दस बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 296 दर्ज किया गया. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार शाम सात बजे एक्यूआई 281 था. रात आठ बजे यह बढ़कर 291 और रात नौ बजे यह 294 हो गया. हालांकि, केंद्र द्वारा संचालित सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) ने समग्र एक्यूआई 319 दर्ज किया जो ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में आता है.

इसे भी पढ़िए :  महाराष्ट्र: पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगा रहे लोगों पर पुलिस ने बरसाई लाठियां, देखें VIDEO

Supreme court ने दिवाली और अन्य त्योहारों के मौके पर रात 8 से 10 बजे के बीच ही फटाखे फोड़ने की अनुमति दी थी. न्यायालय ने सिर्फ ‘हरित पटाखों’ के निर्माण और बिक्री की अनुमति दी थी. हरित पटाखों से कम प्रकाश और ध्वनि निकलती है और इसमें कम हानिकारक रसायन होते हैं.

इसे भी पढ़िए :  हरियाणा हाउसिंग बोर्ड के चेयरमैन जवाहर यादव ने दिया इस्तीफा

Court ने पुलिस से इस बात को सुनिश्चित करने को कहा था कि प्रतिबंधित पटाखों की बिक्री नहीं हो और किसी भी उल्लंघन की स्थिति में संबंधित थाना के एसएचओ को व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार ठहराया जाएगा और यह अदालत की अवमानना होगी.

इसे भी पढ़िए :  Pulwama Terror Attack : सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति में फैसला, पाकिस्तान से 'मोस्ट फेवर्ड नेशन' का दर्जा छीना गया

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद राष्ट्रीय राजधानी के कई इलाकों से उल्लंघन किये जाने की खबरें मिली हैं. आनंद विहार, आईटीओ और जहांगीरपुरी समेत कई इलाकों में प्रदूषण का बेहद उच्च स्तर दर्ज किया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + 10 =