दिल्ली में आज ऑटो, टैक्सी यूनियनों और पेट्रोल पंप की हड़ताल, बढ़ेंगी आम लोगों की मुश्किलें

18
loading...

नई दिल्ली : दिल्ली में पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर Vet नहीं हटने के विरोध में आज दिल्ली के 400 से ज्यादा Petrol Pump बंद रहेंगे. Delhi Petrol Dealers Association (DPDA) की ओर से आधिकारिक तौर पर स्पष्ट किया गया है कि पेट्रोल पंप सोमवार सुबह 6 बजे से मंगलवार सुबह 6 बजे तक बंद रहेंगे. हालांकि इन Petrol Pump से जुड़े CNG Pump खुले रहेंगे.

ऑटो चालक भी हड़ताल पर…
वहीं, CNG की लगातार बढ़ती कीमतों को लेकर दिल्ली के ऑटो चालक भी हड़ताल करने वाले हैं. वहीं, टैक्सी वालों ने निजी कैब को लेकर बनाई गई नीति के खिलाफ बंद बुलाया है. All India Tour and Transport Association के चेयरमैन और संयुक्त संघर्ष समिति के इंद्रजीत सिंह ने कहा, ‘संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा एक दिन के लिए चक्का जाम किया जाएगा.

इसे भी पढ़िए :  Mumbai Dilli Di Kudiyaan: 'Student of The Year 2'' के सॉन्ग में टाइगर, अनन्या और तारा का धमाल, देखें Video

DPDA ने बताया कि दिल्ली सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दामों पर वैट कम नहीं किया है. इसकी वजह से हमें लगातार नुकसान उठाना पड़ रहा है. हम दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार के विरोध में 22 October को 24 घंटे के लिए सभी पेट्रोल पंप बंद रखेंगे.

केंद्र ने किया था तेल पर लगे tax को घटाने का ऐलान
उल्लेखनीय है कि 4 अक्टूबर को केंद्र सरकार की ओर से पेट्रोल और डीजल के दामों पर टैक्स कम किया गया था. केंद्र द्वारा टैक्स कम किए जाने के ऐलान के बाद कई राज्यों की सत्तासीन सरकार ने वैट की दरों को घटाया था, लेकिन दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार की ओर से किसी भी तरह का Vet नहीं घटाया गया था.

इसे भी पढ़िए :  भानपुरा पीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी दिव्यानंद तीर्थ का निधन, दिल्ली के एम्स में ली अंतिम सांस

एनसीआर में पंप पर लगी लाइनें
दिल्ली के सीमाई इलाकों में रहने वाले लोग एनसीआर स्थित यूपी के नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम आदि शहरों के पेट्रोल पंप पर तेल भरवाने के लिए जा रहे हैं. बता दें कि यूपी और हरियाणा सरकार ने पेट्रोल कीमतों पर केंद्र सरकार के फैसले का समर्थन करते हुए वैट में कमी की थी.

दिल्ली सरकार ने नहीं घटाया है पेट्रोल-डीजल पर वैट
पेट्रोल पंप यूनियन ने हाल ही में दिल्ली सरकार से डीजल और पेट्रोल पर वैट में कटौती की मांग की थी. उन्होंने पहले ही घोषणा की थी कि अगर मांगें नहीं मानी गईं तो, 22 अक्टूबर को पेट्रोल पंपों की हड़ताल की जाएगी. Petrol pump
यूनियन के साथ ही Auto-Taxi Union भी इस दिन हड़ताल करेगी. बता दें कि यूनियन की इस घोषणा के बाद भी केजरीवाल सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर वैट हटाने को लेकर कोई कदम नहीं उठाया है.

इसे भी पढ़िए :  नरेंद्र मोदी पर बायोपिक, निर्वाचन आयोग ने उच्‍चतम न्‍यायालय को सौंपी रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + seven =