रवींद्र जडेजा की बैटिंग देख इंग्लिश कोच बोले- शुक्र है सिर्फ आखिरी टेस्ट खेले

loading...

लंदन: इंग्लैंड के सहायक कोच पॉल फारब्रास ने कहा कि टीम इंडिया के रवींद्र जडेजा एक बेहतरीन क्रिकेटर है और उन्हें खुशी है कि वह सिर्फ पांचवां और आखिरी test खेला. रवींद्र जडेजा ने 8वें नंबर पर उतरकर अपने करियर का नौवां अर्धशतक जमाते हुए भारत को पहली पारी में छह विकेट पर 160 रन से 292 रन तक पहुंचाया. रवींद्र जडेजा ने इस मैच में नाबाद 86 रनों की पारी खेली. भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवा और आखिरी टेस्ट ओवल में खेला जा रहा है. भारत Test Series पहले ही गंवा चुका है. इससे पहले 3 मैचों की वन-डे सीरीज में भी भारत को हार का मुंह देखना पड़ा था. हालांकि, टीम इंडिया ने अपने इंग्लैंड दौरे की शुरुआत 3 मैचों की टी-20 सीरीज जीत के साथ की थी.

इसे भी पढ़िए :  साक्षी मलिक को विश्व चैम्पियनशिप का टिकट, रितु फोगाट का सामना पिंकी से

रवींद्र जडेजा की यह शानदार बल्लेबाजी देखकर फारब्रास ने कहा, ”उनकी साझेदारी बनने से पहले उन्हें एक जीवनदान मिला था. उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाते हुए शानदार पारी खेली. वह काफी प्रतिभाशाली और खतरनाक क्रिकेटर हैं. हमें खुश होना चाहिए कि वह आखिरी ही मैच में खेले.”

‘एलिस्टर कुक आखिरी टेस्ट में जड़े शतक’
कोच ने कहा कि क्रिकेटप्रेमियों और इंग्लैंड के क्रिकेट समुदाय को उम्मीद होगी कि एलिस्टर कुक अपनी आखिरी टेस्ट पारी में शतक जमाएं. उन्होंने कहा, ”अगर वह शतक जमा पाते हैं तो यह शानदार होगा. वह दर्शकों से मिल रहे प्यार का लुत्फ ले रहे हैं और लंबी पारी खेलना चाहेंगे.”

इसे भी पढ़िए :  मुजफ्फरनगर : बुर्का पहनकर शोरूम पहुंचीं 3 महिलाएं, 50 लाख रुपये के गहने लेकर हुईं फरार

रवींद्र जडेजा ने आखिरी टेस्ट मैच में जड़ा अर्धशतक
बता दें कि रवींद्र जडेजा की बड़ी अर्धशतकीय पारी के दम पर ही भारत वापसी करने में सफल रहा था. अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे हनुमा विहारी (56) और रवींद्र जडेजा की (नाबाद 86) अर्धशतकों की मदद से अपनी पहली पारी में 292 रन बनाए थे. हालांकि, इसके बाद एलिस्टर कुक की अपनी आखिरी पारी में दिखाई गई मजबूती से इंग्लैंड ने रविवार को टेस्ट क्रिकेट मैच के तीसरे दिन अपना पलड़ा भारी रखा.

इसे भी पढ़िए :  मौसम विभाग ने दी चक्रवात की चेतावनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × 4 =