गाय हर तरह से मौसमी बदलाव में सक्षम

loading...

कानपुर 12 अगस्त। गाय के दूध पर जलवायु परिवर्तन का कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला। शोध से साबित हुआ है कि ग्लोबल वार्मिंग से जलवायु परिवर्तन के चलते भैंस के गर्भधारण पर तो फर्क पड़ सकता है, लेकिन गाय के गर्भधारण पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और वे दूध देती रहेंगी। गाय हर तरह के मौसम बदलाव का सामना करने में सक्षम है।

इसे भी पढ़िए :  पिता पर आरोपों के बावजूद ‘मी टू’ मुहिम का समर्थन जारी रखूंगी : नंदिता दास

पूरी दुनिया इस वक्त यह जानने की फिक्र में है कि जलवायु परिवर्तन से कौन सा पशुधन, सब्जियां और फसलें जीवित रहे पाएंगी? शोध संस्थान यह राज जानने में जुटे हुए हैं। चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के निदेशक शोध डा. एचजी प्रकाश ने गाय और भैंस पर जलवायु परिवर्तन के प्रभाव संबंधी शोध किया हैं इसके मुताबिक गाय एक ऐसा पशुधन है जिसके ब्रीडिंग चक्र पर ग्लोबल वार्मिंग से होने वाले जलवायु परिवर्तन का असर नहीं पड़ेगा।

इसे भी पढ़िए :  भगवान की छवि से छुटकारा पाना चाह रहे सौरभ राज

डा. प्रकाश का कहना है कि गाय की शारीरिक संरचना और जेनेटिक स्थिति ऐसी है कि वह हर जलवायु का सामना कर लेगी। इसके अलावा सूखे क्षेत्र में रहने पर गाय पर अधिक प्रभाव नहीं आता है, जबकि भैंस को ब्रीडिंग के लिए ठंडक और माहौल में नमी चाहिए।

इसे भी पढ़िए :  शाही जोड़े ने नंगे पैर बोन्डी तट की सैर की

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

11 + 5 =