महिला आयोग ने ‘सिंगल मदर’ के लिए पैन कार्ड संबंधी प्रस्ताव की सराहना की

loading...

नई दिल्ली। राष्ट्रीय महिला आयोग और कई महिला अधिकार कार्यकर्ताओं ने महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के उस प्रस्ताव का स्वागत किया है जिसमें यह प्रावधान है कि मां की परवरिश में पले – बढ़े बच्चे अपने पिता के नाम का उल्लेख किए बिना पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। महिला एवं बाल विकास मंत्री ने वित्त मंत्री पीयूष गोयल से आग्रह किया है कि पति से अलग होने वाली या तलाकशुदा महिलाओं के बच्चों या ‘Single Mother’ द्वारा गोद लिए बच्चों को पिता के नाम का उल्लेख नहीं करने का विकल्प दिया जाए। राष्ट्रीय महिला आयोग की कार्यवाहक अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस प्रस्ताव की सराहना करते हुए कहा कि इसको पहले ही अमल में लाया जाना चाहिए था। ‘Center for Social Research’ की निदेशक रंजना कुमारी ने कहा कि ‘Single Mother’ के लिए प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए आवेदन पत्र में माता – पिता में से किसी एक के नाम का उल्लेख करने का विकल्प होना चाहिए। भाकपा की वरिष्ठ नेता और सामाजिक कार्यकर्ता एनी राजा ने भी इस प्रस्ताव की सराहना की है।

इसे भी पढ़िए :  बैंक में जमा धन पर घबराए नहीं लोग, सरकार ने उठाया बड़ा कदम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + 9 =