नोएडा पुलिस में Grading System से मचा ‘हड़कंप’, 11 चौकी इंचार्ज हो गए लाइन हाजिर

loading...

नई दिल्ली/नोएडा: गौतमबुद्धनगर में Grading System की शुरुआत होते ही लापरवाह Policemen पर गाज गिरनी शुरू हो गई है. इसी के तहत 11 चौकी इंचार्ज को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया गया. लापरवाही और काम में रुची नहीं लेने के चलते इन 11 चौकी इंचार्ज पर ये कार्रवाई हुई है. गौरतलब है कि ग्रेडिंग सिस्टम की शुरूआत के बाद हुई इस कार्रवाई से जहां पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है. वहीं, अब लापरवाह अधिकारियों पर इस ग्रेडिंग सिस्टम के जरिए शिकंजा कसने की कोशिश की जाएगी.

इसे भी पढ़िए :  बोलीं जाह्नवी कपूर -उम्मीद है ‘धड़क' लाखों लोगों के दिलों को छुएगी

दरअसल, गौतमबुद्ध नगर में कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए एसएसपी अजयपाल शर्मा ने करीब 15 दिन पहले एक बड़ा फैसला लिया था. अपराधों को रोकने के लिए गौतमबुद्धनगर के कप्तान ने ग्रेडिंग सिस्टम लागू किया था. एसएसपी ने साफ किया है कि काम करने वाले ही थानों में रहेंगे और नाकारा पुलिसकर्मियों को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा. Grading System का आदेश 29 जून से लागू हो गया है. Grading System के तहत inspector को सही और गलत के भी नंबर दिए जाएंगे.

इसे भी पढ़िए :  'जुरासिक पार्क' में वापसी का यही है सही समय- लौरा डर्न

बनाए गए नए नियम के तहत गलत दिशा में चलने वाले वाहन का चालान काटने पर एक, जुंआ और सट्टा पकड़ने पर एक, Gangster प्रति अभियोग तीन, अच्छे मानवीय कार्य पर दो, बाइक चोरी प्रति एक की गिरफ्तारी पर तीन, डकैत प्रति गिरफ्तारी पर चार, शूटर की गिरफ्तारी पर पांच, माफिया पंजीकरण पर पांच, गैंग पंजीकरण पर पांच, इनामी अपराधी की गिरफ्तारी पर 3, गैलेंट एक्ट पर 25 अंक, संपत्ति जब्तीकरण पर 15 अंक कोतवाल को दिए जाएंगे.

इसे भी पढ़िए :  मशहूर टीवी एक्ट्रेस रीता भादुड़ी का निधन, बॉलीवुड में शोक की लहर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 4 =