दूसरा T20 मैच भी रोमांचक होने की उम्मीद, इंग्लैंड में अब भी है कुलदीप का खौफ

loading...

कार्डिफ : भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही T20 Series का दूसरा मैच Friday को होगा. पहले मैच में शानदार जीत दर्ज करने वाली Indian Team इस मैच में फिरकी से खौफजदा इंग्लैंड को हराकर Series अपने नाम करने के इरादे से उतरेगी. पहले मैच में कुलदीप यादव ने 24 Run देकर 5 Wicket लिए थे. जबकि के एल राहुल ने नाबाद शतक जमाया. भारत ने बेहतरीन हरफनमौला खेल का प्रदर्शन करते हुए मेजबान को 8 wicket से हराकर सीरीज में बढत बनाई थी. कल का मैच जीतकर विराट कोहली एंड कंपनी Series झोली में डालना चाहेगी.

भारतीय टीम T20 Cricket में लगातार 6th Series जीतने की दहलीज पर है. इस सिलसिले का आगाज November 2017 में न्यूजीलैंड पर घरेलू Series में मिली जीत के साथ हुआ था. उसके बाद से भारत ने एक भी द्विपक्षीय T20 series नहीं गंवाई है. भारत अगर Series 2-0 से जीतता है तो ICC Ranking में दूसरे स्थान पर काबिज ऑस्ट्रेलिया से अंतर कम हो जाएगा जबकि 3-0 से जीतने पर वह पाकिस्तान के बाद दूसरे स्थान पर आ जाएगा.

इसे भी पढ़िए :  तिरुपति मंदिर को दो भारतीय अमेरिकियों ने दिए 13.5 करोड़ रुपये

दूसरी ओर भारत को ऐसा करने से रोकने के लिए ऑस्ट्रेलिया को Zimbabwe में चल रही मौजूदा त्रिकोणीय सीरीज के अगले दो मैचों में जीत दर्ज करनी होगी. दूसरी ओर इंग्लैंड अगर हारता है तो न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के बाद सातवें स्थान पर आ जाएगा. इंग्लैंड ने पिछले 10 T20 मैचों में से 5 ही जीते हैं.

इसे भी पढ़िए :  राहुल गांधी पर बयान पड़ा महंगा, मायावती ने अपने National coordinator को पद से हटाया

Machine का इस्तेमाल कर रही है England
इंग्लैंड के बल्लेबाजों के लिए सबसे बड़ी चिंता चाइनामैन कुलदीप यादव की गेंदबाजी होगी. पहले मैच में हार के बाद कप्तान इयोन मोर्गन और बल्लेबाज जोस बटलर ने अपने खिलाड़ियों से क्रीज पर संयम बरतने और गेंद को सावधानी से देखने की अपील की थी. इंग्लैंड खेमा अभ्यास के लिए स्पिन गेंदबाजी Machine ‘मर्लिन’ का इस्तेमाल करेगा क्योंकि उसके पास अभ्यास की खातिर कलाई के स्पिन गेंदबाज नहीं है.

इससे पहले 2005 एशेज से पहले इंग्लैंड ने इस मशीन का इस्तेमाल किया था जब ऑस्ट्रेलिया के पास शेन वार्न जैसा स्पिनर था. England के शीर्षक्रम ने तेज आक्रमण को बखूबी झेला था जो भारत के लिए चिंता का सबब है. उमेश यादव और भुवनेश्वर कुमार दोनों Old Taftford में नाकाम रहे थे. एक मैच के बाद भारतीय टीम प्रबंधन बदलाव करने के मूड में नहीं होगा. युजवेंद्र चहल को महंगे साबित होने के बावजूद टीम में बरकरार रखा जा सकता है. शुक्रवार के मैच पर weather की गाज भी गिर सकती है. अब तक खिली धूप में खेलने के बाद यहां आसमान बादलों से घिरा है और हल्की बारिश हो रही है.

इसे भी पढ़िए :  गुजरात में कांग्रेस को और एक झटका, पूर्व CM शंकर सिंह वाघेला के बेटे बीजेपी में शामिल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 − 1 =