बिजली चोरों को नहीं बख्शेंगेः ऊर्जा मंत्री, बुढ़ाना गेट स्थित मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में लिया भाग

0
173

मेरठ 30 जून। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली आपूर्ति में बिजली चोरी बाधा बनी हुई है। किसी भी सूरत में बिजली चोरों को बख्शा नहीं जाएगा। चोरी करने वालों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी। आज मेरठ में बुढ़ाना गेट स्थित मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भाग लेने आए थे। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि वह मंदिर में पूजा अर्चना कर गरीबों के कल्याण और किसानों की खुशहाली की मन्नत मांगेंगे। प्रदेश और देश में अमन चैन रहे। उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि एक तरफ अमन चैन बिगाड़ने के लिए जाति और धर्म के आधार पर हिंसा की लोग कोशिश कर रहे हैं। दूसरी तरफ भाजपा प्रदेश में समग्र विकास में जुटी है ।
कहा कि सौभाग्य योजना के तहत प्रदेश में चार करोड़ लोगों को 31 दिसंबर तक बिजली कनेक्शन लेने हैं ताकि गरीबों का घर रोशन किया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का लक्ष्य है कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो और हर गरीब व्यक्ति को छत मिले। देश और प्रदेश में खुशहाली लाना भाजपा का लक्ष्य है।ऊर्जा मंत्री ने कहा की मेरठ समेत प्रदेश के 17 नगर निगम और एनसीआर जोन को नो ट्रिपिंग जोन बनाने जा रहे हैं। इसके लिए कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बिजली चोरी प्रदेश में उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली उपलब्ध कराने में बड़ी बाधा है। अभियान चलाकर बिजली चोरों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। किसी भी सूरत में बिजली चोर बख्शे नहीं जाएंगे। बिजली चोरी के मामलों में रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेश के हर जिले में बिजली थाना होगा जिसमें 28 कर्मचारियों की बिजली चोरों को नहीं बख्शें…
तैनाती की जाएगी बिजली चोरी से संबंधित मामलों में इन्हें थानों में कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का गांव और गरीब से कोई सरोकार नहीं रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांव, गरीबी, धुआं और अंधेरा देखा है। उसी के तहत योजना बनाकर गांव, गरीब, किसान, महिलाओं सब वर्गों के लिए कार्य किए जा रहे हैं। गरीबों को बिजली कनेक्शन और महिलाओं को गैस चूल्हे उपलब्ध कराए जा रहे हैं अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के सवाल पर उन्होंने कहा कि राम मंदिर आस्था से जुड़ा मुद्दा है । वहां पूजा हो रही है। भव्यता प्रदान करने के लिए अगले महीने से काम होगा। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि तकनीकी का सहारा लिया जा रहा है। गाजियाबाद के बाद मेरठ में ट्रांसमिशन का बड़ा बिजलीघर बनाया जाएगा। ताकि बिजली की समस्याएं खत्म हो सके । इसी तरह शामली में भी प्रयास किए जा रहे हैं। इस दौरान पूर्व विधायक लक्ष्मीकांत बाजपेयी, अश्वनी त्यागी, आलोक शिशौदिया मौजूद रहे।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments