दुनिया में सबसे ज्यादा Salary लेने वाला CEO बना ये भारतीय, मिलेंगे 857 करोड़ रुपए

loading...

नई दिल्ली: टेक्नोलॉजी की दुनिया में निकेश अरोड़ा का नाम कौन नहीं जानता. गूगल, Softbank जैसी दिग्गज कंपनियों में काम करने वाले निकेश अकेले ऐसे भारतीय हैं, जो दुनिया में सबसे ज्यादा Salary लेने वाले CEO बन गए हैं. फिलहाल Nikesh Arora Palo Alto Network के नए CEO बनाए गए हैं. उनकी सालाना सैलरी 12.8 करोड़ dollar यानी कुल 857 करोड़ रुपए है. निकेश को Salary के रूप में 6.7 करोड़ रुपए मिलेंगे. साथ ही इता नहीं उन्हें सालाना bonus मिलेगा. इसके अलावा, company में 268 करोड़ रुपए के शेयर मिलेंगे. हालांकि, यह शेयर वह सात साल तक नहीं बेच पाएंगे. आपको बता दें, Palo Alto Cyber Securities Company है, जिसका मुख्लालय California में स्थित है. निकेश अरोड़ा लंबे समय से टक्नोलॉजी सेक्टर से जुड़े हैं.

Shares की कीमत भी बढ़ेगी
बीबीसी के मुताबिक, पालो अल्टो नेटवर्क से जुड़ने के बाद निकेश अरोड़ा पर पैसों की बरसात हो रही है. सालाना सैलरी के अलावा निकेश को जो शेयर मिलेंगे, अगर उनकी कीमत 1 साल में 300 फीसदी बढ़ती है तो शेयरों की कीमत 442 Crore रुपए हो जाएगी. इसके अलावा, निकेश अपने पैसे से भी पालो अल्टो में 134 करोड़ रुपए के शेयर खरीद सकते हैं. हालांकि, यह शेयर वह सात साल तक नहीं बेच पाएंगे. फिलहाल कंपनी के shares में गिरावट चल रही है, लेकिन उम्मीद जताई गई है कि कंपनी को सालाना आधार पर जबरदस्त मुनाफा हो सकता है. कंपनी के मुनाफे की बात करें तो पिछली तिमाही में कुल 29.4 percent की बढ़ोतरी हुई है.

इसे भी पढ़िए :  जिया बनीं डांस इंडिया डांस लिटिल मास्टर सीजन 4 की विजेता, सभी को दी कड़ी टक्कर

निकेश के लिए कड़ी होगी चुनौती
निकेश अरोड़ा ने 2011 से इस कुर्सी पर बने मार्क मिकलॉकलीन की जगह ली है. हालांकि, मार्क कंपनी के बोर्ड में वाइस चेयरमैन बने रहेंगे. निकेश अरोड़ा बोर्ड के चेयरमैन भी होंगे. कई लोगों के लिए यह फैसला हैरान करने वाला है. क्योंकि, निकेश अरोड़ा के पास साइबर सिक्योरिटी का अनुभव नहीं है और यह निकेश की सबसे बड़ी चुनौती होगी कि वह कैसे कंपनी को आगे ले जाते हैं. हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि निकेश के पास क्लाउड और डेटा डीलिंग का अनुभव है, जो उन्हें साइबर सिक्योरिटी क्षेत्र में मदद करेगा.

टिम कुक से आगे निकले निकेश
निकेश के पहले Apple के CEO टिम कुक टेक्नोलॉजी की दुनिया में सबसे ज्यादा सैलरी लेने वाले सीईओ थे. उनका सालाना package 119 मिलियन डॉलर का है. 2014 में जब निकेश ने गूगल को छोड़ा था तब 50 मिलियन डॉलर की सालाना सैलरी पर काम कर रहे थे. इसके बाद निकेश ने Soft Bank Join किया था और यहां उन्होंने 483 मिलियन डॉलर के शेयर खरीदे थे. निकेश यहां जून 2016 तक रहे थे.

इसे भी पढ़िए :  'आप' मार्च LIVE:PM HOUSE की ओर बढे़ आप कार्यकर्ता, कर रहे हैं नारेबाजी

कभी 3 हजार डॉलर लेकर निकले थे
अंग्रेजी अखबार Business Standard को दिए एक Interview में निकेश अरोड़ा ने अपने सफर की चर्चा की थी. उन्होंने बताया था कि पहले उन्हें कई कंपनियों ने नौकरी देने से इनकार कर दिया था. अमेरिका जाते वक्त उनके पास सिर्फ तीन हजार डॉलर थे. जैसे-तैसे उससे गुजारा होता था. निकेश के career में उस वक्त अहम मोड़ आया जब गूगल में उन्हें नौकरी offer हुई. निकेश ने 2004 से 2007 तक google में बतौर यूरोप operation के प्रमुख काम किया. 2011 में वो google में Chief Business Officer बन गए और इसके साथ ही वो उस श्रेणी में आ गए, जिन्हें google सबसे ऊंची पगार देती है.

इसे भी पढ़िए :  भारतीय रेल को दुरुस्‍त करेंगे 'Mystery Shopper', ऐसे आपके सफर को भी बनाएंगे आसान

Soft bank के बोर्ड में शामिल हुए
2014 में निकेश अरोड़ा Soft bank के साथ जुड़े. सॉफ्ट बैंक में उन्हें Global Internet Investment प्रमुख की जिम्मेदारी मिली. निकेश को भारत और इंडोनेशिया में International internet में investment का श्रेय दिया जाता है. उनके बढ़ते कद का ही यह प्रमाण है कि उन्हें soft bank के बोर्ड में शामिल कर लिया गया.

कौन हैं Nikesh Arora
50 साल के निकेश अरोड़ा का जन्म 6 फरवरी 1968 को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में हुआ था. निकेश के पिता इंडियन एयरफोर्स में officer थे. निकेश की schooling दिल्ली में Air Force स्कूल से की थी. इसके बाद उन्होंने Bachelor of Electronic Engineering from BHU IT में 1989 में किया था. graduation
के ठीक बाद विप्रो में नौकरी शुरू की, लेकिन जल्द ही छोड़ दी. नौकरी छोड़ने के बाद निकेश आगे की पढ़ाई करने अमेरिका चले गए. निकेश ने बोस्टन की Northeastern University से एमबीए किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + seventeen =