Water Birth से जन्म देने वाली मां ने कहा, ‘पीड़ा के आगे ख़ुद को समर्पित करना ही मां बनने का सबसे बड़ा सुख है’

0
185

अपने शरीर से एक जान को जन्म देना आसान काम नहीं है. कहते हैं कि एक औरत को डिलीवरी के दौरान होने वाला दर्द एक्सीडेंट में लगने वाली चोट जितना होता है. वो इस दर्द को सहती है, इसीलिए उसका स्थान पुरुष से ऊपर रखा गया है. हालांकि कई महिलाएं डिलीवरी के दौरान होने वाले पेन को इतना बड़ा बना देती हैं कि बाकी लड़कियों के लिए मां बनने की प्रक्रिया भावनात्मक और आध्यात्मिक से ज़्यादा, शारीरिक पीड़ा ज़्यादा बन जाती है.

उन्होंने लोगों से इस बारे में कई बातें सुनी हुई थी, लेकिन मैं दुनिया को एक नई कहानी सुनानी चाहती थी. वो कहानी जिसमें दर्द की जगह सुकून है, जिसमें चीख की जगह वात्सल्य है.

मुझे दर्द हुआ, लेकिन मैंने उस दर्द के आगे ख़ुद को सरेंडर कर दिया. शायद ये ही सबसे सही तरीका है इस प्रक्रिया को अपना बनाने का.Hayley की कहानी ने बहुत लोगों को प्रेरित किया होगा, ऐसी आशा करते हैं. और अगर उसकी कहानी से किसी और के लिए ये यात्रा खू़बसूरत बने, इससे अच्छा और कुछ नहीं हो सकता.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments