सौभाग्य योजना से रोशन हो जनपद का हर घर – राजेन्द्र अग्रवाल

183
loading...

15 अगस्त तक जनपद को करें विद्युत संयोजन से संतृप्त -सांसद
पारदर्शिता से वितरित हों डार्क जोन में विद्युत कनेक्शन-राजेन्द्र अग्रवाल

मेरठ, 31मई।      प्रदेश व केन्द्र सरकार का सपना है कि प्रदेश का हर घर विकास योजनाओं एवं विद्युत के प्रकाश से रोशन हो, इस सपने को साकार करने हेतु शासन द्वारा सौभाग्य योजना प्रारम्भ की है। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सौभाग्य योजना के अन्तर्गत अभियान चलाकर हर घर में 15 अगस्त 2018 तक विद्युत कनेक्शन उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि अधिकारी एक बेहतर कार्ययोजना बनाकर जनपद के जर्जर तारों को बदले तथा जिस भी क्षेत्र में विद्युत सम्बंधी कोई अव्यवस्था है तो उसे तत्काल दुरूस्त करायें। उन्होंने निर्देश दिये कि डार्क जोन मे जो भी विद्युत कनेक्शन वितरित किये जायें उसमें पहले आओ पहले पाओं के आधार पर पूर्ण पारदर्शिता एवं निष्पक्षता के साथ वितरित करें। उन्होंने सौभाग्य योजना का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार कराने के भी निर्देश दिये।
सांसद राजेन्द्र अग्रवाल ने आज कलैक्ट्रेट स्थित बचत भवन सभागार में जिला विद्युत समिति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए उक्त विचार व्यक्त किये। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के प्रत्येक घर को सौभाग्य योजना से रोशन करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसके तहत अधिकारी अभियान चलाकर व कैम्प लगाकर कनेक्शन का वितरण करें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वह सौभाग्य योजना के कनेक्शन वितरण हेतु कैम्प आयोजन की तिथि निर्धारित कर उसका व्यापक प्रचार-प्रसार करायें ताकि सौभाग्य योजना के लाभ से कोई भी परिवार वंचित न रहे।

सांसद ने बताया कि प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य योजना) के अन्तर्गत ग्रामीण एवं शहरी गरीब परिवारों को निशुल्क विद्युत कनेक्शन प्रदान किया जाएगा जो मीटर्ड होंगे। उन्होनें बताया कि सौभाग्य योजना में गरीब बीपीएल परिवारों को फ्री विद्युत कनेक्शन के साथ बिजली किट भी उपलब्ध करायी जाएगी जिसमें केबिल, एमसीबी, बल्ब, एक एलईडी, होगी। उन्होंने बताया कि सामान्य परिवारों को भी संयोजन देते समय विद्युत किट भी उपलब्घ करायी जाएगी परन्तु इसके एवज में 500 रूपये जोड़ दिये जायेंगे जिसे 50 रूपये मसिक की दस समान किस्तों में बिल के साथ जोड़कर प्राप्त किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह एक कार्ययोजना बनाकर जनपद के सभी क्षेत्रों में जर्जर तारों, को समय से बदलवायें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वह आमजन की विद्युत सम्बंधी समस्याओं का प्राथमिकता पर निस्तारण करें ताकि उन्हें व्यर्थ में चक्कर न काटने पड़ें। उन्होंने कहा कि डार्क जोन के ग्रामों में जो भी विद्युत कनेक्शन दिये जायें उसमें पूर्ण पारदर्शिता एवं निष्पक्षता के साथ पहले आओं पहले पाओं के आधार पर वितरण करें ताकि कोई भी व्यक्ति उपेक्षा का शिकार न हो सके। उन्होंने कहा कि अधिकारी जनपद के ऐसे स्थानों को चिन्हित कर सूची उपलब्ध करायें जहां पर जर्जर तार है तथा विद्युत लाइने बल्लियों पर संचालित है ताकि उसकी कार्ययोजना बनाकर समय से ठीक कराया जा सके।

अधीक्षण अभियन्ता एवं सदस्य सचिव जिला विधुत समिति अनिल कुमार सिहं ने बताया कि जनपद में 665 राजस्व ग्राम है, जिसमें 2,75319 हाउस होल्ड है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में 2,44,914 घरो में विद्युत के वैध संयोजन है। उन्होंने बताया मई 2018 तक कुल 18078 आवेदन प्राप्त हो चुके है, जिनमें से 12,131 घरों में संयोजन निर्गत किया गया है। उन्होंने बताया कि 15 अगस्त 2018 तक जनपद के समस्त घरों में विद्युत संयोजन से संतृप्त किया जाएगा । उन्होंने बताया कि ग्राम स्वराज अभियान के दौरान सौभाग्य योजना के अन्र्तगत 15 ग्रामों में 557 विद्युत संयोजन निर्गत कर विद्युत के मामलों से सौभाग्यशाली कर दिया गया है । इसके साथ ग्राम राली चैहान,एतमादनगर अलीपुर एवं मोहिउद्दीनपुर ललसाना में संयोजन निर्गत हेतु अतिरिक्त बिजली नेटवर्क बिछाकर अभियान पूर्ण सफल बनाया गया है। उन्होंने बताया के विद्युत विभाग द्वारा पूर्ण गम्भीरता के साथ प्राप्त शिकायतों/समस्याओं का निस्तारण किया जा रहा है।
इस अवसर पर विधायक मेरठ कैंट सत्य प्रकाश अग्रवाल, किठौर सत्यवीर त्यागी, मेरठ शहर रफीक अंसारी, परियोजना निदेशक भानू प्रताप सिंह, अधीक्षक अभियंता विद्युत ग्रामीण ए0के0 सिंह, नगरीय श्रीशर्मा, अधिशासी अभियंता ग्रामीण अजय गर्ग, अधिशासी अभियंता नगरीय सहित सांसद प्रतिनिधि हर्ष गोयल एवं अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − eleven =