मिली बढ़कर वैरिएबल पे, आईटी कंपनी के कर्मचारियों की लगी लाटरी.

loading...

नई दिल्‍ली।    TCS employees के लिए यह हफ्ता दोहरी खुशी लेकर आया है। एक तो कंपनी ने अपने कर्मचारियों को चौथी तिमाही में शानदार वित्‍तीय नतीजों पर 120 percent वैरिएबल पे देने का ऐलान किया है। दूसरा, कंपनी का मार्केट कैप बढ़कर 6.5 Lakh crore रुपए का स्‍तर पार कर गया है। इससे वह रिलायंस को पछाड़कर देश की सबसे ज्‍यादा मार्केट कैप वाली कंपनी बन गई है। इस मुकाम पर पहुंचने वाली वह पहली भारतीय कंपनी है। गुरुवार को कंपनी ने चौथी तिमाही के नतीजे घोषित किए थे। PTI की report के मुताबिक, march में खत्म वित्त वर्ष में TCS में काम करनेवाले लोगों की तादाद बढ़कर 3.95 लाख हो गई जो वित्त वर्ष 2016-17 के मुकाबले 7,700 ज्यादा है।

इसे भी पढ़िए :  बसपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से मायावती ने अपने भाई आनंद को हटाया

Tata Consultancy Services ने 2015 में कर्मचारियों को 2,628 करोड़ रुपये का एकबारगी बोनस दिया था। उस समय TCS का चौथी तिमाही का शुद्ध लाभ 2,628 crore रुपये के एकमुश्त कर्मचारी बोनस के समायोजन के बाद 27 percent घटकर 3,858.2 करोड़ रुपये रह गया था। वहीं वित्‍त वर्ष 2017-18 में TCS का शुद्ध लाभ 6904 crore रुपए रहा। उसके शुद्ध लाभ में 5.7 percent का उछाल दर्ज किया गया है. वहीं 31 दिसंबर, 2017 को खत्‍म तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 6531 crore रुपए रहा था।

इसे भी पढ़िए :  मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेने से पहले कुमारस्‍वामी कर्नाटक के लिए बोल गए ये 'बड़ी बात'

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही Tata group के चेयरमैन एमिरेट्स रतन टाटा कर्मचारियों के सामने भावुक हो गए थे।टाटा मोटर्स को एक विफल कंपनी बताए जाने से दुखी थे। उन्होंने कहा था कि Tata motors के कर्मचारी फिर से इस कारोबार की प्रमुख कंपनी बनने की योजना बनाएं। उन्होंने कहा कि पिछले चार पांच साल में समूह की इस कंपनी की बाजार भागीदारी घटी है और जब देश इसे विफल कंपनी के रूप में देखता है तो दुख होता है।

इसे भी पढ़िए :  खबर जरा हटके : देश में 119 अरबपति, 2027 तक बढ़कर हो जाएंगे 357

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + 14 =